सीतापुर, जेएनएन। थाना पिसावां क्षेत्र में गांव के बाहर नित्यक्रिया को गई महिला को दो बदमाशों ने दबोच लिया और गला दबाकर अपनी जान में मरा समझकर खेत में फेंक दिया। इसके बाद गहने लूटकर मौके से फरार हो गए। परिवारजन के तलाशने पर महिला जिंदा मिली। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वारदात से गांव में दहशत है।

यह है मामला 

पिसावां के एक गांव की महिला सोमवार देर शाम जंगल में गई थी, जहां पर उसे दो युवकों ने पकड़ लिया। शोर मचाने पर मुंह और गला दबा दिया, इससे वह बेहोश हो गई, लेकिन बदमाशों को लगा कि महिला की मौत हो गई। मरा समझकर उसे खेत में फेंक दिया अौर सोने के टप्स, बिछुआ, पायल, सोने का फूल आदि जेवरात लूटकर फरार हो गए। काफी देर तक महिला के घर न पहुंचने पर परिवारजन ने तलाश शुरू की। तलाशने पर वह खेत में बेहोशी की हालत में पड़ी मिली। पुलिस को सूचना देकर उसे सीएचसी में भर्ती कराया गया, जहां से महिला की हालत नाजुक देखते हुए डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर दकर दिया है।

पीड़िता के गले पर नाखून से खरोंचने के निशान मिले हैं। इलाज के बाद होश में आई महिला ने आरोपितों की पहचान गांव के ही जगदेव पुत्र प्रभू, नंदराम पुत्र गोकरन के रूप में की है। घटना की तहरीर दे दी गई है। प्रभारी एसओ एमपी सिंह ने बताया कि, दोनों आरोपितों के खिलाफ लूट, छेड़छाड़ का केस दर्ज कर लिया गया है। आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

 

Posted By: Anurag Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप