लखनऊ, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वसंत पंचमी पर जनता और प्रयागराज कुंभ में आये देश-विदेश के संत-महात्माओं एवं श्रद्धालुओं के प्रति अपनी शुभकामना व्यक्त की। अपने संदेश में योगी ने कहा कि वसंत पंचमी विद्या, बुद्धि, ज्ञान, कला, और संगीत की देवी सरस्वती के प्राकट्य का दिन है। इसलिए इस पर्व पर उनकी पूजा की जाती है। वसंत पंचमी के दिन किया जाने वाला सरस्वती पूजन उसके लिए ईश्वर का आभार जताने का दिन है। 

प्रकृति के हर्षोल्लास का पर्व 

मुख्यमंत्री ने कहा कि धर्म, आध्यात्म, सभ्यता, संस्कृति और ज्ञान-विज्ञान आदि के क्षेत्र में मानव ने जो भी हासिल किया है। यह प्रकृति के हर्षोल्लास का भी पर्व है। हमारे सभी पर्व देश की एकता और अखंडता को मजबूती देते हैं। योगी ने कुंभ में आये संत समाज से लोक कल्याण के जरिये समाज को सही दिशा देते रहने की अपेक्षा की। मेला प्रशासन को निर्देश दिया कि शाही स्नान के इस पर्व पर हर श्रद्धालु की सुविधा और सुरक्षा सुनिश्चित करें। 

गोरखपुर में योगी और नड्डा 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार (वसंत पंचमी) को गोरखपुर के दौरे पर रहेंगे। उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा और प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन भी होंगे। सभी लोग गोरखनाथ मंदिर परिसर स्थित गुरु श्री गोरक्षनाथ स्कूल ऑफ नर्सिंग और गुरु श्री गोरक्षनाथ कालेज ऑफ नर्सिंग के सेवा शपथ कार्यक्रम और पिपराइच स्थित महाराणा प्रताप स्नातकोत्तर महाविद्यालय जंगल धूसड़ के कार्यक्रम में भाग लेंगे। उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले भी मुख्यमंत्री भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ महराजगंज, गोरखपुर और जौनपुर के दौरे पर थे।

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस