लखनऊ, जेएनएन। शिया समुदाय के खिलाफ बीते दिनों पाकिस्तान में लाखों लोगों ने सड़क पर उतर कर नारेबाजी की थी। जिसके बाद से पुरी दुनिया में पाकिस्तान हुकूमत को इसके बाद कड़ा विरोध झेलना पड़ा था। अब उसकी आंच लखनऊ तब पहुंच गई है। इमाम-ए-जुमा व शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद ने घटना की कड़े शब्दों में निंदा की। साथ ही रैली निकालकर शिया समुदाय शियों को काफिर करार देने वाली तंजीम सिपह-ए-सहाबा को आतंकी संगठन करार दिया।

मौलाना ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए सिपह-ए-सहाबा के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। मांग पूरी न होने पर शिया-सुन्नी द्वारा मिलकर दिल्ली स्थित पाकिस्तानी दूतावास का घेराव करने का एलान किया। चौक स्थित इमामबाड़ा गुफरानमआब में समुदाय को संबोधित करते हुए मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि पाकिस्तान में जिस तरह से शिया दुश्मनी और यजीज से दोस्ती बढ़ रही है। वह एक दिन पाकिस्तान से यजीदिस्तान में तब्दील हो जाएगा। शियों के खिलाफ रैली निकालकर आतंकी तंजीम सिपह-ए-सहाबा ने उनके कत्लेआम का एलान किया है।

मौलाना ने कहा कि पाकिस्तान में रैली निकाल हजरत मोहम्मद साहब के नवासे हजरत इमाम हुसैन अलेहिस्सलाम के कातिल यजीद की हिमायत में जिंदाबाद के नारे लगाकर शियों के कत्लेआम की धमकी दी गई। वह भी पाकिस्तानी हुकूमत को वार्निंग देकर। इसके बाद भी पाकिस्तानी सरकार ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इससे यह बात साफ हो जाती है कि सरकार भी उनके साथ है। मौलाना ने आरोप लगाते हुए कहा कि ऐसे लोग अमरीकी, इजराईली व सऊदी अरब हुकूमतों के आलाकार है, जो एक लंबे अरसे से शिया-सुन्नी फसाद फैलाकर पाकिस्तान में शियों के खून की होली खेल रहे हैं।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस