Move to Jagran APP

बाराबंकी में नकाबपोश बदमाशों ने महिला के मुंह में कपड़ा ठूंसकर बेरहमी से पीटा, घर में लगाई आग

उत्‍तर प्रदेश के बाराबंकी में एक घर में सोमवार की रात नकाबपोश बदमाशों ने लूटपाट की। इस दौरान बदमाशों ने महिला के मुंह में कपड़ा ठूंसकर बेहरमी से पीटा भी। नकदी समेत बक्से में रखे जेवरात भी उठा ले गए। पुलिस ने महिला को सीएचसी में भर्ती कराया है।

By Anurag GuptaEdited By: Published: Tue, 15 Mar 2022 10:41 AM (IST)Updated: Tue, 15 Mar 2022 10:41 AM (IST)
बाराबंकी में बदमाशाें ने नकदी समेत जेवरात पर हाथ साफ क‍िए।

बाराबंकी, संवादसूत्र। दरियाबाद थाने के मियागंज गांव स्थित एक घर में सोमवार की रात नकाबपोश बदमाशों का कहर टूटा। दीवार फांद घर में घुसे बदमाशों ने महिला के मुंह में कपड़ा ठूंस बेहरमी से पिटाई कर मरणासन्न कर दिया। घर में रखी नकदी समेत महिला से जेवरात छीने व बक्से में रखे जेवरात भी उठा ले गए। घर के नए कपड़ों समेत बैनामा, बच्चों की मार्कशीट को आग लगा दिया। पुलिस ने घायल महिला को सीएचसी में भर्ती कराया है।

loksabha election banner

दरियाबाद थाने के मियागंज गांव के शिवकुमार प्रजापति के घर में रात करीब 12 बजे के आसपास पीछे के रास्ते तीन बदमाश घुसे। शिवकुमार ने बताया कि घर के अंदर उसकी पत्नी शिवकुमारी सो रही थी। वह घर से चंद कदम दूर हाते में था। जबकि बाहर दरवाजे पर बड़ा बेटा श्रवण व छोटा बेटा था। शिवकुमार के मुताबिक घर में घुसे बदमाशों की आहट जैसे उसकी पत्नी को मिली, उसकी नींद खुल गई। तभी तीनों बदमाश पहुंचे और दो ने उसे बिस्तर से घसीट लिया। उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया, ताकि शोर न कर सके। इसके बाद बेरहमी से पिटाई की। मरणासन्न हालत में उसे छोड़ दिया।

उसने बताया कि एक सप्ताह पहले 26 हजार रुपए की भैंस बेंची थी। उसका रुपया घर में रखा था। पत्नी की पिटाई के बाद उससे जेवरात छीने। घर में रखे दो जोड़ी पायल, पांच बिछिया भी निकाल ले गए। शिवकुमार ने बताया कि बड़ा बेटा श्रवण आईटीआई का छात्र है। उसकी आईटीआई के मार्कशीट, बैनामें के दस्तावेज व जरूरी अभिलेख के साथ घर के नए कपड़े भी जला दिए। चूल्हा भी तोड़ा। करीब एक बजे पत्नी के कराहने की आवाज सुनकर बड़ा बेटा जगा। वह अंदर गया तो देखा कि आंगन में उसकी मम्मी जमीन पर पड़ी है। मुंह मे कपड़ा ठूंसा हुआ है। रात में निजी चिकित्सक से उपचार कराया। पुलिस को सूचना दी। सुबह पुलिस मौके पर पहुंची। घायल महिला को सीएचसी में उपचार हेतु भर्ती कराया।

अस्पताल में भर्ती महिला ने बताया कि आहट लगने पर जैसे ही जगे, दो लोग आएं और घसीट लिया। बाहर सो रहे बेटे को आवाज दे पाती इससे पहले ही मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। जमीन पर गिराकर बेरहमी से पिटाई शुरू कर दी। नाक में पहने सोने की कील छीनने लगे। कान फटने के डर से खुद निकाल कर दे दिया। पायल व बिछिया निकाल लिया। उधर पुलिस मुकदमा दर्ज करने की बात कह रही है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.