सुल्तानपुर, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में मंगलवार को जमीन कब्जा करने को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष हुआ। उपद्रवियों ने पांच बादक को क्षतिग्रस्त कर तीन को आग के हवाले कर दिया। इस बवाल में दोनो पक्ष से करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए, जिसमें दो की हालत गंभीर बनी हुई है। सभी का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

ये है पूरा मामला 

मामला अयोध्या-सुलतानपुर जिले के बॉर्डर पर स्थित बल्दीराय थानाक्षेत्र के परसौली मजरे एंजर गांव का है। गांव की एक जमीन को प्रदीप सिंह निवासी तरड़सा ने बैनामा लिया था। मंगलवार की दोपहर वह इस जमीन की जुताई कराने गए थे। इसी दौरान परसौली के ही रहने वाले कुंवर चौहान पहुंचे और और पूर्वजों का शमशान बताकर विरोध करने लगे। जिसके बाद दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया और जमकर लाठी डंडे व ईट पत्थर चलने लगे। सूचना और पहुंची पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। मौके पर एडिशनल एसपी अयोध्या, क्षेत्राधिकारी विजयमल सिंह यादव, तहसीलदार रानी गरिमा जायसवाल, थानाध्यक्ष इनायत नगर अयोध्या, कूरेभार, बल्दीराय, देहली, वलीपुर चौकी के पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

 

घटनास्थल पर पहुंची एसडीएम बल्दीराय प्रिया सिंह ने बताया कि बैनामा लेने वाला प्रदीप सिंह इसे अयोध्या जिले की जमीन बता रहा है, जबकि कुंवर चौहान इसे सुलतानपुर में बताते हुये अपने पूर्वजों का शमशान बता रहा था, इसी को लेकर विवाद हुआ है। बुधवार को अयोध्या व सुल्तानपुर की राजस्व टीम को भेजकर सच्चाई का पता लगाया जाएगा।

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस