लखनऊ, जेएनएन। आइआइएम रोड स्थित प्रबंध नगर योजना में एलडीए किसानों को सर्किल रेट का दोगुना तक मुआवजा देने के लिए तैयार है, जिसको भूखंडों का मूल्य बढ़ा कर समायोजित किया जाएगा। यही नहीं एलडीए को प्रबंध नगर में बांध बनाना पड़ेगा। उससे भी जमीन के दामों के बढऩे की संभावना है। इस संबंध में एलडीए उपाध्यक्ष ने योजना से जुड़े सभी अधिकारियों की बैठक की। बैठक के बारे में कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया मगर बस इतना कहा गया है कि किसानों को संतुष्ट करने की हर संभव कोशिश प्राधिकरण जरूर करेगा।

बैठक में नजूल अधिकारी, तहसीलदार, मुख्य अभियंता, नियोजन  के अधिकारी और प्रमुख व्यक्तियों को शामिल किया गया।  सूत्रों ने बताया कि बैठक में तय किया गया है कि किसानों को वर्तमान सर्किल रेट का दोगुना मुआवजा दिया जाएगा, जिस पर कोई आपत्ति नहीं है। इस वजह से प्लॉटों के दाम बसंतकुंज के मुकाबले कुछ बढ़ जाएंगे। दाम बढऩे की एक वजह ये भी है कि इस इलाके को बाढ़ से बचाने के लिए एलडीए को बांध का निर्माण करना पड़ेगा। इसलिए खर्च कुछ और बढ़ जाएगा।

बसंतकुंज में 1950 रुपये वर्ग फीट मूल्य

एलडीए के बसंतकुंज योजना के भूखंडों में मूल्य करीब 1950 रुपये प्रति वर्ग फीट है। अनुमान है कि इससे कुछ अधिक दाम प्रबंध नगर योजना में होंगे। मगर ये कितने ज्यादा होंगे, इसकी पुष्टि नहीं की जा सकी है।

बांध निर्माण करना होगा

प्रबंध नगर योजना में एलडीए को बांध निर्माण करना पड़ेगा। अभी इस क्षेत्र को गोमती की बाढ़ से बचाने के लिए कोई भी खास इंतजाम नहीं हैं। इसलिए करीब 500 करोड़ रुपये से बांध निर्माण किया जाएगा।

किसान मांग रहे चौगुना मुआवजा

एलडीए दोगुना मुआवजा देने की बात कर रहा है तो दूसरी ओर किसान सर्किल रेट का चौगुना मुआवजा मांग रहे हैं। इस संबंध में पिछले दिनों वे प्रदर्शन भी कर चुके हैं। मंडलायुक्त को पत्र भी भेजा चुका है।

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस