लखनऊ, जेएनएन। लखनऊ विकास प्राधिकरण लविप्रा द्वारा साढ़े चार हजार प्रधानमंत्री आवास बनाने के बाद और बनाने जा रहा है। इसकी कवायद तेज हो गई है। लविप्रा की ओर से 4500 पीएम आवास बनाने की तैयारी कर रहा है। सिर्फ शासन से हरी झंडी मिलने का इंतजार है। इससे हजारों लोगों को राजधानी में छप मिल सकेगी। खासबात है कि हरदोई रोड स्थित बसंत कुंज योजना में लविप्रा पीएम आवास के आसपास बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करा रहा है। यही नहीं यह पीएम आवास मजबूती और सुविधा के मामले में अच्छे होंगे। 

मुख्य अभियंता इन्दु शेखर सिंह ने बताया कि लविप्रा ने शासन को प्रस्ताव बनाकर भेज दिया है। आदेश आते ही काम शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि वर्तमान में जहां पीएम आवास बने हैं, उसी के पीछे खाली पड़ी जमीन पर इन्हें बनाया जाएगा। इन्हें बनने में कम से कम ढाई से तीन साल लगेंगे। हालांकि इससे पहले लविप्रा फ्लैटों को देने का काम जरूरतमंदों को देना शुरू कर देगा। वर्तमान में शारदा नगर व बसंत कुंज में बनाए गए पीएम आवास को फाइनल टच देने का काम चल रहा है।

लविप्रा लॉटरी की प्रकिया फरवरी में पूरी कर चुका है और सूडा द्वारा सत्यापान का काम चल रहा है। अफसरों के मुताबिक आने वाले चंद सप्ताह में कब्जा भी देने का काम शुरू कर दिया जाएगा। वर्तमान में बसंत कुंज योजना में पीएम आवास के कामों को तेज करने के लिए संबंधित अधिशासी अभियंता को निर्देश दिए गए है। बता दें कि कोरोना के कारण पिछले दो माह से काम की गति धीमी थी। अब मजदूर वापस आने से काम को तेज किया जा रहा है। 

Edited By: Anurag Gupta