लखनऊ, जेएनएन। मडिय़ांव थाना क्षेत्र में सोमवार को एक शर्मनाक वारदात सामने आई। खुद को  अधिवक्ता बताने वाले धर्मेंद्र कुमार सिंह ने करीब 35 साल छोटी फुफेरी बहन से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है। इस प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए मडिय़ांव पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। 

पुलिस के मुताबिक छह जून को किशोरी अपनी बुआ के घर सीतापुर से छुट्टियों में आई थी। किशोरी के माता पिता बेटी को उसके फुफेरे भाई धर्मेंद्र कुमार सिंह (50) की देखरेख में छोड़कर वापस चले गए थे। आरोप है कि इस बीच आरोपित धर्मेंद्र ने किशोरी को अकेला पाकर उसके साथ दुराचार किया।

पुलिस का कहना है कि धर्मेंद्र की हरकतों से परेशान होकर किशोरी ने फोन कर पिता से वापस घर ले जाने की बात कही। किशोरी के पिता रविवार सुबह मडिय़ांव पहुंचे और उसे साथ लेकर सीतापुर चले गए। घर पहुंचने पर किशोरी ने मां से आपबीती बताई तो परिवारीजन सन्न रह गए। किशोरी के पिता बेटी के साथ रविवार रात में मडिय़ांव थाने पहुंचे और इंस्पेक्टर से सारी बात बताई।

प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए इंस्पेक्टर ने उच्चाधिकारियों को इससे अवगत कराया। इसके बाद पुलिस ने पड़ताल के बाद साक्ष्यों के आधार पर आरोपित धर्मेंद्र कुमार सिंह को गिरफ्तार कर लिया। इंस्पेक्टर संतोष कुमार सिंह के मुताबिक आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म एवं पाक्सो एक्ट की धारा में एफआइआर दर्ज की गई थी। किशोरी के बयान और मेडिकल परीक्षण कराने के बाद आरोपित को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस