बाराबंकी, संवादसूत्र। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बराबंकी में शनिवार को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को गुंड़ों और अपराधियों का संरक्षक बताया। उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 में सपा और बसपा मिलकर लड़े थे तो भी बीजेपी का मुकाबला नहीं कर पाए। इस बार 2022 मेें सपा-बसपा और कांग्रेस तीनों एक साथ गठबंधन कर लें तो भी यह चुनाव भाजपा ही जीतेगी।

इस दौरान डिप्टी सीएम ने कस्बा सिद्धौर के सिद्धेश्वर महादेव मंदिर के सामने मेला मैदान में करीब 35 करोड़ की लागत की 27 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण भी किया। जनप्रतिधियों की मांग पर करीब 270 करोड़ की लागत से सड़क चौड़ीकरण की परियोजनाओं की घोषणा भी की। साथ ही बच्चों का अन्नप्रासन कराया। विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण प्रदान किए।

उन्होंने भाजपा की केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियां बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विश्व में भारत का डंका बज रहा है। विधान सभा चुनाव 2022 के दृष्टिगत उन्होंने सपा, बसपा व कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला। खास तौर पर सपा अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उनके निशाने पर रहे। कहा कि अब अखिलेश को पिछड़े याद आ रहे हैं। वह 2012 से 17 तक उन्हें क्यों याद नहीं किए। उन्होंने कहा कि अखिलेश आप तो गुंडों व अपराधियों को संरक्षण देने वाले हो।

केशव मौर्या ने कहा कि वर्ष 2017 से पहले इनमें श्रीराम के प्रति भी भक्ति नहीं जागी। चुनाव के नाम पर जनता की आंख में धूल झोंकोगे तो कमल ही खिलेगा। उन्होंने कहा कि सपा, बसपा व कांग्रेस के साथ ही कुछ वोट कटवा दल भी भाजपा के विजय रथ को रोकने के लिए एकजुट हैं। मगर उन पार्टियों को वर्ष 2017 में जितनी सीटें मिली थीं, इस बार वह उन्हें भी नहीं बचा पाएंगे।

केशव ने दिया नया नाराः उपमुख्यमंत्री ने नारा दिया कि 100 में 60 हमारा है, 40 में बंटवारा है। बंटवारे में भी हमारा है। उन्होंने जनता से कहा कि आप सरकार को विद्यार्थी मानकर सपा, बसपा व भाजपा की सरकारों को नंबर देना।

मोदी जी पीएम हैं इसलिए बन रहा राम मंदिरः केशव ने कहा कि मोदी जी प्रधानमंत्री हैं इसलिए अयोध्या में श्रीराम मंदिर बन रहा है। किसानों के मुद्दे पर कहा कि कृषि सुधार कानून किसानों के हित में थे, लेकिन सपा, बसपा व कांग्रेस के नेता किसान आंदोलन के नाम पर अपनी दुकान चलाने लगे। जब पीएम ने कृषि सुधार कानून वापस ले लिया तो सब परेशान हैं।

जन सभा के बाद उपमुख्यमंत्री ने सिद्धेश्वर महादेव की पूजा-अर्चना भी की। इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष राजरानी रावत, भाजप प्रदेश मंत्री व जिला प्रभारी अर्चना मिश्रा, जिलाध्यक्ष शशांक कुशमेश, सांसद उपेंद्र सिंह रावत, विधायक दरियाबाद सतीश चंद्र शर्मा, विधायक हैदरगढ़ बैजनाथ रावत, विधायक रामनगर शरद कुमार अवस्थी, विधायक कुर्सी साकेंद्र प्रताप वर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।

Edited By: Dharmendra Mishra