लखनऊ (जेएनएन)। पूर्व मुख्यमंत्रियों से सरकारी बंगले खाली कराये जाने का मामला मंगलवार को भी पूरी तरह से सुलझ नहीं पाया। दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती एनडी तिवारी के परिवारीजन से आवास खाली करने संबंधित कोई संतोषजनक उत्तर नहीं मिलने पर राज्य सम्पत्ति विभाग ने न्याय विभाग से अगली कार्रवाई के लिए परामर्श मांगा है। वहीं, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने बंगला खाली करने के बाद अब तक चाबी आदि सौंपने की प्रक्रिया पूरी नहीं की है। दूसरी ओर, मायावती के खाली किये मॉल एवेन्यू स्थित 13-ए बंगला को कांशीराम विश्राम स्थल से अलग किया जाएगा।

राज्य सम्पत्ति अधिकारी योगेश कुमार शुक्ला ने बताया कि 13-ए बंगला की पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था कराने को चार चौकीदार तैनात किये जाने के अलावा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखा चुका है। उन्होंने बताया कि बंगला 13 ए का चिह्नांकन कराकर उसे कांशीराम यादगार विश्राम स्थल से अलग किया जाएगा। आवास 13-ए मायावती के नाम से आवंटित है, जिसमें आसपास के भवनों को शामिल कर लिया गया था। बसपा नेताओं का दावा है कि गत 13 जनवरी, 2011 को कैबिनेट बैठक में 13-ए मॉल एवेन्यू को कांशीराम यादगार विश्राम स्थल बनाने का फैसला किया था।

हालांकि राज्य सम्पत्ति अधिकारी शुक्ला ने बताया कि बसपा नेताओं द्वारा सौंपी गई पत्रावलियों से विभागीय रिकार्ड मेल नहीं खाते हैं, इसलिए मूल रिकार्ड के अनुसार आगामी कार्रवाई की जाएगी। शुक्ला ने बताया कि अखिलेश यादव द्वारा विक्रमादित्य मार्ग स्थित आवास खाली कराने की जानकारी मिल रही है लेकिन, अभी जरूरी औपचारिकताएं पूरी नहीं करायी गई हैं।

गंभीर बीमार चले रहे पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के परिवारीजन की ओर से 1-मॉल एवेन्यू खाली करने की ठोस जानकारी नहीं दी गई है। एक वर्ष की अवधि बढ़ाने की उनके परिवारीजन की मांग को पूरा करना नियम संगत नहीं होगा। इसलिए एक दो दिन में विधिक राय लेने के बाद खाली कराने संबंधित कार्रवाई का फैसला लिया जाएगा।

राजदूत के भोज के बाद पूर्व मंत्री से बंगला खाली कराएंगे

पूर्व मंत्री अम्मार रिजवी से गौतमपल्ली स्थित बंगला छह जून को अमेरिकी राजदूत के साथ रात्रिभोज होने के बाद खाली कराया जाएगा। राज्य सम्पत्ति अधिकारी शुक्ला ने बताया कि रिजवी के आग्रह पर बंगला खाली कराने की अवधि अब और नहीं बढ़ायी जाएगी।

 

Posted By: Ashish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस