लखनऊ, जेएनएन। Independence Day 2020 Events : राजधानी लखनऊ में कोरोनावायरस के मरीजों की मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। ऐसे में अब अब प्लाज्मा थेरेपी को बढ़ावा दिया जाएगा। इसके लिए केजीएमयू में देश का सबसे बड़ा प्लाज्मा बैंक बनकर तैयार हो गया है। राज्यपाल स्वतंत्रता दिवस पर इसका वर्चअल उद्घाटन करेंगी।

केजीएमयू के शताब्दी भवन में ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग में प्लाज्मा संग्रह यूनिट संचालित थी। अब तक कोरोना को हरा चुके 45 योद्धा प्लाज्मा दान कर चुके हैं। 25 मरीजों को प्लाज्मा चढ़ाया भी जा चुका है। 

अब प्लाज्मा बैंक का गठन किया गया है। विभागाध्यक्ष डॉ. तूलिका चंद्रा के मुताबिक, प्लाज्मा बैंक की क्षमता दिल्ली, महाराष्ट्र के अस्पतालों से अधिक होगी। इसमें 830 यूनिट प्लाज्मा संग्रह करने की क्षमता होगी। यह देश का सबसे बड़ा प्लाज्मा स्टोरेज बैंक होगा। शनिवार को शाम साढ़े पांच बजे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल प्लाज्मा बैंक का वर्चअल उद्घाटन करेंगी। दैनिक जागरण ने 20 जुलाई को सबसे पहले प्लाज्मा बैंक खुलने की खबर अपने पाठकों तक पहुंचाई थी।

एक दिन में 120 लोग कर सकेंगे प्लाज्मा दान

केजीएमयू में एक दिन में 120 लोग प्लाज्मा दान कर सकेंगे। इसके लिए पांच एफेरेसिस मशीनें लगाई गई हैं। एक व्यक्ति से प्लाज्मा संग्रह करने में करीब एक घंटे का वक्त लगता है।

एक वर्ष तक संग्रह रहेगा प्लाज्मा

डॉ. तूलिका चंद्रा के मुताबिक, अभी एक डीप फ्रीजर है, जिसमें 30 यूनिट प्लाज्मा संग्रह किया जा सकता है। दो डीप फ्रीजर का ऑर्डर और भेजा जा चुका है। इसमें 400-400 यूनिट प्लाज्मा एक वर्ष तक सुरक्षित रखा जा सकेगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021