लखनऊ(जागरण संवाददाता)। चाहे बैंक खाता हो, एलआइसी या फिर मोबाइल सर्विस। ऐसी ही कई सेवाओं को आधार से लिंक कराने की तिथि करीब आ रही है। इन सेवाओं से अपना आधार 31 मार्च तक लिंक कराना है। एक तरफ जहां शहर में ज्यादातर लोगों ने अपना आधार कार्ड बनवा लिया है, वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं जिनके पास अभी आधार कार्ड नहीं है। कुछ लोगों के आधार में नाम या पता गलत है तो कुछ में मोबाइल फोन ही अपडेट नहीं है। बैंक में आधार लिंक कराने के लिए नाम और पता भी सही होना चाहिए। लोग अपने आधार में संशोधन करने और अपडेट कराने के लिए अपने घर के करीब सेंटरों पर जा सकते हैं। बस उसके लिए अपने साथ वांछित दस्तावेज ले जाने होंगे। दैनिक जागरण आपको बताते हैं कि आप बिना किसी असुविधा के अपना आधार कार्ड कैसे बनवा सकते हैं।

इन जगहों पर बनेंगे आधार कार्ड

वैसे तो प्रदेश में 1425 डाकघर और 1850 बैंकों में आधार कार्ड बनवाने और संशोधन करने की सुविधा है। लखनऊ में डाकघर के अलावा कार्वी के सेंटरों और निजी एजेंसियों को भी यह काम सौंपा गया है।

इन डाकघरों में बनेंगे आधार

हजरतगंज जीपीओ, गोमतीनगर, इंदिरानगर, न्यू हैदराबाद, अलीगंज, निरालानगर, चौक, एलडीए कालोनी कानपुर रोड, आवास विकास कालोनी राजाजीपुरम, राजेंद्रनगर, दिलकुशा, महानगर, आलमबाग और मानकनगर

इन कार्वी सेंटरों पर भी बनते हैं आधार

पिछले दिनों तक कार्वी सरकारी कार्यालयों और स्कूलों सहित कई स्थानों पर शिविर लगाकर आधार कार्ड बनाती थी। लेकिन अब केवल सेंटरों पर ही आधार बन रहे हैं। कार्वी के जिला खाद्य आपूर्ति कार्यालय के पास स्थित सेंटर के अलावा अलीगंज, गोमतीनगर, आलमबाग और चौक सेंटर में भी आधार बन रहे हैं।

समय का रखें ध्यान

अगर आपको अपना आधार कार्ड बनवाना है तो सुबह 9:00 से 9:30 बजे के बीच डाकघरों में पहुंच जाएं। ऐसा इसलिए क्योंकि भीड़ ज्यादा होने पर आपकी प्रक्रिया अगले दिन पूरी की जा सकेगी। हर डाकघर में केवल एक बायोमीट्रिक मशीन लगी है, जिस कारण प्रतिदिन केवल 45 से 50 आवेदकों के आवेदन लेकर आधार बनाने की प्रक्रिया पूरी की जा सकती है। इसी तरह कार्वी के हजरतगंज ऑफिस में भी तीन मशीने लग गई हैं। जहां रोजाना करीब 200 लोगों के आधार बनते हैं। यहां सुबह 9:30 से 11 बजे के बीच ही 200 फार्म वितरित हो जाते हैं। ऐसे में 11 बजे के बाद पहुंचने पर आपको बैरंग लौटना पड़ सकता है।

इतना है शुल्क

नया आधार कार्ड बनाने के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना होगा। कार्वी और डाकघरों में आधार कार्ड नि:शुल्क बनाने के लिए फार्म दिए जाते हैं। हालांकि आधार में अपना संशोधन कराने के लिए आपको 25 रुपये शुल्क देना होगा। उसके साथ पांच रुपये जीएसटी भी लगेगा।

यह दस्तावेज लाने होंगे साथ

आधार कार्ड बनवाने के लिए आपके पास मतदाता पहचान पत्र, डीएल या पासपोर्ट होना चाहिए। जन्मतिथि के लिए हाईस्कूल का प्रमाण पत्र और निवास के लिए बैंक पास बुक और बिजली का बिल (आधार कार्ड बनवाने वाले के नाम बिजली कनेक्शन होना चाहिए) के साथ आप नजदीकी आधार केंद्र पर अपना आधार कार्ड बनवा सकते हैं। इसके अलावा बैंक स्टेटमेंट या पासबुक, राशन कार्ड, पासपोर्ट, डाकघर की पासबुक, सरकारी विभाग या सार्वजनिक क्षेत्र की उत्पादन यूनिट (पीएसयू) की ओर से जारी पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, तीन माह के भीतर का जलकर का बिल या बिजली का बिल, क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट, इंश्योरेंस पॉलिसी, मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थानों के लेटर हेड पर फोटो, शस्त्र का लाइसेंस, मनरेगा जॉब कार्ड, पेंशनर कार्ड, किसान पासबुक, स्वतंत्रता सेनानी का कार्ड, आयकर असेसमेंट आर्डर , ईसीएचएच और सीजीएचएस कार्ड, ग्राम पंचायत की ओर से जारी पहचान पत्र, एमएलए, तहसीलदार, सांसद और राजपत्रित अधिकारी के लेटरहेड पर पते का सत्यापन, वाहनों का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, पंजीकृत लीज, सेल और रेंट एग्रीमेंट, राज्य सरकार की ओर से जारी फोटोयुक्त आय और जाति प्रमाण पत्र, गैस कनेक्शन बिल, दिव्यांगता पहचान पत्र, अभिभावक के पासपोर्ट, सरकार की ओर से पते के साथ जारी विवाह प्रमाण पत्र, राज्य और केंद्र सरकार की ओर से सरकारी आवास के आवंटन का पत्र, बेसिक टेलीफोन का बिल अथवा संपत्ति कर जमा करने की एक साल के भीतर की रसीद भी ला सकते हैं।

नाम और पता संशोधन में लगेंगे ये दस्तावेज

पासपोर्ट, पैनकार्ड, राशनकार्ड, वोटर पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकारी और पीएसयू की ओर से जारी पहचान पत्र, मनरेगा जॉब कार्ड, मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान से जारी फोटोयुक्त पहचान पत्र, शस्त्र लाइसेंस, फोटो वाले बैंक एटीएम और क्रेडिट कार्ड, पेंशनर फोटो कार्ड, स्वतंत्रता सेनानी पहचान पत्र, किसान फोटो पहचान पत्र, सीजीएचएस ईसीएचएस कार्ड में से कोई एक।

सावधानी से भरें आवेदन

आधार केंद्र पर आवेदन करते समय नाम की स्पेलिंग के साथ ही जन्मतिथि और पता सही-सही भरें। ऐसा न करने पर आपको दुबारा संशोधन के लिए आवेदन करना होगा। बायोमीट्रिक के लिए आपको आधार केंद्रों पर जरूर जाना पड़ेगा।

आधार कार्ड में संशोधन की दुश्वारियां

आधार कार्ड बनने के साथ ही संशोधन की दुश्वारियां आम लोगों पर भारी पड़ती हैं। पता संशोधन से लेकर जन्म तिथि के संशोधन तक में 25 रुपये के निर्धारित शुल्क के बावजूद लोगों से 100 से 200 रुपये की वसूली की जाती है। कानपुर रोड के टेक्निकल इंटर कॉलेज के सामने आधार केंद्र पर भी मनमानी वसूली के मामले सामने आए। 40 रुपये निर्धारित शुल्क के स्थान पर 100 रुपये लिए जाते हैं जबकि प्लास्टिक कार्ड 100 से 200 रुपये में बनाया जाता है। कार्ड संबंधी जानकारी के लिए कार्ड पर लिखा टोल फ्री नंबर 18001801947 पर शिकायत दर्ज करायी जा सकती है।

ऐसे कराएं अपना आधार लिंक

- बैंक खाते से अपना आधार लिंक कराने के लिए आपको बैंक में लंबी लाइन लगाने की जरूरत नहीं है। आप अपने बैंक के एटीएम में भी आधार लिंक करा सकते हैं। एटीएम कार्ड से स्वाइप करने के बाद दिए गए निर्देशों के अनुसार अपना आधार नंबर फीड कर सकते हैं।

- अपनी किसी भी तरह की एलआइसी को अपडेट आप ऑनलाइन भी कर सकते हैं। बैंक और कंपनी की वेबसाइट पर यह सुविधा है। इसके अलावा आप संबंधित बैंक और कंपनी के कार्यालय की ब्रांच जाकर भी आधार लिंक कर सकते हैं।

-आधार को मोबाइल से लिंक कराने के लिए अपनी सेवा प्रदाता कंपनी के आउटलेट पर जाकर अपनी फिंगर प्रिंट देने के बाद आपका आधार लिंक हो जाएगा। इसके अलावा बीएसएनएल सहित सभी टेलीकाम कंपनियों ने अपने आइवीआर नंबर भी दिए हैं। जिन पर फोन कर आधार लिंक हो सकेगा।

By Jagran