मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पति की आहट सुन खुशी से दरवाजा खोलने दौड़ी थी पत्नी, पति के मुंह से निकला तलाक..लखनऊ (जेएनएन)। रामपुर में तीन तलाक का सिलसिला जारी है। देर से सोकर उठने पर गुलाफ्शा को तलाक दिए जाने का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि खेड़ा टांडा का नया मामला सामने आ गया। शौहर ने बीवी के मायकेवालों के गरीब होने पर उसे तलाक दे दिया। दिल्ली से दो माह बाद घर लौटा शौहर तलाक देकर वापस चला गया। पति के आने की आहट सुन पत्नी खुशी से उछलते हुए दरवाजा खोलने गई थी और पति के मुंह से तलाक सुन बेहोश हो गई। पीड़िता ने मुकदमा दर्ज कराने का थाने में तहरीर दे दी है। तीन तलाक का बिल पास होने के बाद थाने में गुहार लगाने वाली आयशा पहली पीड़िता है।


मामला अजीमनगर थाना क्षेत्र के खेड़ा टांडा गांव का है। अभी लोगों के दिमाग से गुलअफशा की तलाक का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि दूसरा मामला सामने आ गया। खेड़ा टांडा निवासी आयशा खातून का निकाह करीब दो साल पहले गांव के ही कासिफ के साथ हुआ था। निकाह के साल भर बाद तक सब कुछ ठीक रहा। उसके बाद आयशा को गरीबी के ताने मिलने लगे। पति आए दिन उसे गरीबी के ताने देकर तलाक की धमकी देता था। लेकिन पत्नी मामले को हंसकर टाल देती थी।

पिछले दो माह से पति दिल्ली से घर नहीं आया था। बुधवार की देर रात अचानक पति ने अपने आने की सूचना पत्नी को दी। उसके घर आने की बात सुन पत्नी खुशी से उछल पड़ी और दरवाजा खोलने भागी। दरवाजा खुलते ही पति ने आयशा को तलाक दे दिया और वापस चला गया। पति के मुंह से तलाक सुन पत्नी बेहोश हो गई। परिजनों ने विवाहिता की हालत बिगड़ी देखी तो होश उड़ गए।
थाना प्रभारी अजीमनगर कुलदीप सिंह के अनुसार तीन तलाक से पीड़ित आयशा की तहरीर मिल गई है। पति और उसकी मां समेत चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर आयशा को इंसाफ दिलाया जाएगा।
 

Posted By: Ashish Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप