लखनऊ, जेएनएन। मानसूनी बादलों ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। कहीं रिमझिम हो रही है तो कहीं मूसलाधार बारिश से गर्मी के तेवर ढीले हो रहे हैं। साथ ही कई जगह बारिश जानलेवा भी साबित हो रही है। अंबेडकरनगर में बारिश में पेड़ गिरने से एक की मौत हो गई। 

राजधानी में मंगलवार को दोपहर से मूसलाधार बारिश शुरू हो गई। लोगों ने जमकर बारिश के मजे उठाए। कानपुर में दिन भर बादल छाए रहे। सोमवार दोपहर में तेज हवा के साथ बारिश से तापमान में कमी आई। बांदा, चित्रकूट, हमीरपुर, महोबा, उरई, औरैया, इटावा, कन्नौज, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, उन्नाव और अकबरपुर में सोमवार को अधिकतम तापमान 32.5 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा। वहीं कानपुर में छाए बादलों के बीच शाम को शुरू हुई फुहार रिमझिम में तब्दील हो गई थी। मौसम विभाग के अनुसार दस जुलाई को भी तेज बारिश की संभावना है।

मुजफ्फरनगर के सिखेड़ा गांव में सोमवार को बारिश के दौरान सुबह मकान की छत गिरने से तीन बच्चों की मौत हो गई। उनका पिता घायल हो गया। आसपास के अन्य जिलों में हल्की बारिश हुई। शाहजहांपुर में करीब दो बजे से सोमवार सुबह तक रुक-रुककर बारिश होती रही। रोजा क्षेत्र के जिद्दीनगर गांव में बिजली गिरने से किशोर की मौत हो गई।

वहीं अंबेडकर नगर में कोतवाली अकबरपुर क्षेत्र में शिवबाबा के निकट बारिश के बीच सड़क पर गिरा सूखा आम का पेड़। इसकी चपेट में आकर सड़क पार कर रहे 55 वर्षीय कालीचरन पुत्र हब्बल की दर्दनाक मौत हो गई। लगातार होती बारिश में वह छाता लेकर सड़क पार कर रहा था। 

Posted By: Anurag Gupta