लखनऊ, जेएनएन। सहारनपुर और कुशीनगर में जहरीली शराब से बड़ी संख्या में मौतें होने के बाद आबकारी विभाग ने शुक्रवार को दोनों जिलों के आबकारी अधिकारी समेत दस कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है। इनमें दो आबकारी निरीक्षक भी हैैं। इस बीच मुख्यमंत्री ने सभी मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये व अस्पतालों में उपचार करा रहे प्रभावितों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। उन्होंने पुलिस एवं आबकारी विभाग को संयुक्त रूप से अवैध शराब के खिलाफ विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए हैैं। 

दोनों घटनाओं की जांच 

प्रमुख सचिव आबकारी कल्पना अवस्थी ने बताया कि सहारनपुर के जिला आबकारी अधिकारी अजय सिंह, आबकारी निरीक्षक गिरीश चंद्र व आरक्षी नीरज कुमार और अरविंद कुमार को निलंबित किया गया है। इसी तरह कुशीनगर में जिला आबकारी अधिकारी योगेंद्र नाथ रामू सिंह यादव, आबकारी निरीक्षक हृदय नारायण पांडेय, मुख्य आरक्षी प्रह्लाद सिंह और राजेश कुमार तिवारी, व आरक्षी ब्रह्मानंद श्रीवास्तव व रवींद्र कुमार को निलंबित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि दोनों घटनाओं की जांच कराई जा रही है।    

डीजीपी को सीएम हिदायत 

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर और सहारनपुर में अवैध शराब से हुई मौतों को गंभीरता से लेते हुए जिला आबकारी अधिकारियों के खिलाफ कड़े कदम उठाने के निर्देश दिए थे। उन्होंने दोनों जिलाधिकारियों को प्रभावित व्यक्तियों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा है। मुख्यमंत्री ने डीजीपी को हिदायत दी है कि संबंधित जिलों के पुलिस अधीक्षकों का दायित्व निर्धारित करें। 

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस