लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश में गरीब और वंचित वर्ग के लगभग 15 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन का दोहरा लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूर्व में ही अगले वर्ष होली तक मुफ्त राशन का वितरण किए जाने का निर्देश दे चुके हैं। अब केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को मार्च 2022 तक बढ़ाए जाने का निर्णय किया है। इस निर्णय के बाद गरीब और वंचित वर्ग को अनाज के अलावा खाद्य तेल व नमक भी एक महीने में दो बार मिलेगा। लाभार्थी परिवारों को एक महीने में 10 किलोग्राम अनाज मुफ्त मिलेगा, जिसमें गेहूं व चावल शामिल है। बल्कि दाल, खाद्य तेल व नामक भी अब मुफ्त उपलब्ध कराया जाएगा।

लंबे समय से कोविड-19 महामारी की वजह से जीवन यापन में कष्ट का सामना कर रहे गरीब और वंचित वर्ग के लोगों के लिए केंद्र और राज्य सरकार की ओर से यह एक बड़ी राहत होगी। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की अवधि नवंबर में समाप्त हो रही थी। जिसे प्रदेश सरकार इस वर्ष दिसंबर के अलावा जनवरी, फरवरी और मार्च, 2022 तक जारी रखने का निर्णय कर चुकी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तीन नवंबर को अयोध्या में होली तक मुफ्त राशन का वितरण करने घोषणा की थी। सरकार द्वारा तैयार की गई रूपरेखा के अनुसार, अंत्योदय व अन्य पात्र परिवारों के राशन कार्ड धारकों को दिसंबर से प्रदेश भर की 80 हजार उचित मूल्य की दुकानों के माध्यम से राशन उपलब्ध कराया जाएगा। संबंधित विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को इसे लेकर स्पष्ट निर्देश दिए जा चुके हैं।

अंत्योदय अन्न योजना के अंतर्गत अनुमानित लाभार्थियों की संख्या 1.30 करोड़ से अधिक तथा पात्र परिवारों मे कार्ड-धारकों की संख्या लगभग 13.41 करोड़ से अधिक है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के चौथे चरण के तहत मुफ्त अनाज का वितरण प्रदेश में जारी है। अप्रैल, 2020 में कोविड-19 महामारी की पहली लहर आने के बाद अब तक प्रदेश में पात्र परिवारों में 128 लाख मीट्रिक टन मुफ्त खाद्यान्न का वितरण हो चुका है।

Edited By: Umesh Tiwari