गाेंडा, संवाद सूत्र। गौतमबुद्धनगर (नोएडा) की बीएससी की छात्रा को शुक्रवार को गोंडा पुलिस ने नगर क्षेत्र से बरामद किया है। जांच में अपहरण का आरोप फर्जी निकला है। पाया गया है कि छात्रा व एक युवक के बीच इंटरनेट मीडिया के माध्यम से प्रेम प्रसंग चल रहा था। ऐसे में वह खुद युवक से मिलने आई थी। फिलहाल, गोंडा व नोएडा पुलिस इस मामले में कई अन्य से पूछताछ कर रही है। एसपी संतोष कुमार मिश्र ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर के बादलपुर थाने में गुरुवार को एक अपहरण का मुकदमा हुआ था। इसमें आरोप लगाया गया था कि मार्निंग वाक करने निकली छात्रा का अपहरण कर लिया गया है।

मामले की जांच के दौरान वहां की पुलिस ने गोंडा पुलिस को कुछ इनपुट भेजा था। एसपी ने बताया कि इस सूचना पर नगर कोतवाल आलोक राव, एसओजी प्रभारी संतोष सिंह व सर्विलांस सेल के हृदय नरायन दीक्षित की अगुवाई में तीन टीमों का गठन किया गया था। शुक्रवार को नोएडा पुलिस के साथ मिलकर चलाए गए अभियान में छात्रा को नगर क्षेत्र से बरामद कर लिया गया है। कोतवाली नगर में पुलिस अधिकारियों की टीम उससे पूछताछ कर रही है। कुछ और लोगों से पूछताछ की जा रही है।

नगर कोतवाल आलोक राव के मुताबिक अभी तक की जांच में पाया गया है कि छात्रा का अपहरण नहीं हुआ था। वह खुद रोडवेज बस से गोंडा आई थी। उसका नगर कोतवाली के पांडेय खास मुहल्ले में रहने वाले एक युवक से इंटरनेट मीडिया के माध्यम से प्रेम प्रसंग चल रहा था। उन्होंने बताया कि नोएडा पुलिस अब इसमें आगे की कार्रवाई करेगी। एसपी ने बताया कि गृह सचिव ने गोंडा पुलिस को एक लाख रुपये का इनाम देने का ऐलान किया है।

ये था मामला : गौतमबुद्धनगर के बादलपुर थाने में 16 सितंबर को एक छात्रा के अपहरण का मुकदमा किया गया था। आरोप था कि भाई- बहन के साथ सुबह की सैर के लिए निकली छात्रा का अपरहण कर लिया गया। इसकाे लेकर स्थानीय लोगों ने जाम लगाकर प्रदर्शन किया गया था। डीजीपी कार्यालय से इस मामले की निगरानी की जा रही थी।

Edited By: Anurag Gupta