लखनऊ (जेएनएन)। पश्चिमी विक्षोभ के चलते रविवार देर रात से शुरू हुआ बारिश का सिलसिला सोमवार तक जारी रहा। ठिठुरन बढ़ गई। घने बादलों के बीच बिजली कड़की। प्रदेश के विभिन्न जिलों में ओलावृष्टि हुई, जिससे फसलों को नुकसान हुआ। खासकर आलू किसान तबाह होने की कगार पर पहुंच गए। बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए।

राजधानी लखनऊ के आसपास के जिलों में दिनभर बादल छाए रहे। अधिकांश जिलों में बूंदाबांदी हुई। रायबरेली में ओले पड़े और सीतापुर में बिजली गिरी। बर्फीली हवाओं ने वातावरण में ठंडक घोल दी। रायबरेली में ओले तो सीतापुर में गिरी बिजली। सीतापुर में मंसूरपुर गांव में बिजली गिरने से गुमटी के जल गई। श्रावस्ती, बहराइच, हरदोई, लखीमपुर, बलरामपुर और बाराबंकी में बूंदाबांदी जबकि फैजाबाद और सुलतानपुर में सिर्फ बादल छाए रहे तो अमेठी का मौसम साफ रहा।

मध्य उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड के जिलों में बारिश के साथ ओले गिरने से ठंड ने एक बार फिर दस्तक दे दी है। तापमान गिरने से गेहूं किसानों को राहत मिली वहीं अन्य फसलें काफी प्रभावित हुईं। उन्नाव व कन्नौज में बिजली गिरने से किसान व युवक की मौत हो गई। कानपुर तेज हवा ने लोगों को कंपा दिया। फतेहपुर में खागा सहित ग्रामीण इलाकों में हल्की बारिश हुई। इटावा में ओलावृष्टि हुई और बिजली चमकी। कन्नौज, औरैया, फर्रुखाबाद और सैफई में ओले गिरे। गेहूं को छोड़कर अन्य सभी फसलें बेमौसम बरसात से प्रभावित हो रही हैं।

आलू बेल्ट के तौर पर ख्याति प्राप्त कन्नौज में दो दिनों से लगातार रुक-रुककर व तेज बारिश होने से आलू खोदाई का काम ठप हो गया है। इससे हजारों किसान बेहाल हैं। गुरसहायगंज के सदरपुर में बिजली गिरने से युवक की मौत हो गई। लगातार बारिश से आलू के खेतों में पानी भरने के कारण नुकसान तय है। किसानों के चेहरों पर ङ्क्षचता साफ नजर आई।

बुंदेलखंड में बांदा, हमीरपुर, महोबा, उरई जिले में ओले गिरने से चना, गेहूं आदि को काफी नुकसान हुआ है। समूचे पूर्वांचल में अचानक रविवार देर रात से मौसम का रुख बदल गया। वाराणसी, सोनभद्र, बलिया, मऊ, गाजीपुर, आजमगढ़, भदोही, मीरजापुर, जौनपुर और चंदौली आदि जिलों में कहीं भी जोरदार तो नहीं मगर कई इलाकों में छिटपुट बारिश रह रहकर होती रही। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कासगंज के सोरों क्षेत्र के गांव दतलाना में बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई और तीन गंभीर घायल हो गए। मथुरा के फरह इलाके में भी एक झोंपड़ी पर बिजली गिरने से गृहस्थी का सामान जल गया।

सोमवार को भी बेमौसम बरसात और ओला वृष्टि से गेहूं, सरसों, तंबाकू के साथ ही आलू की फसल को भी हानि पहुंचने का अनुमान है। आगरा, अलीगढ़, मुरादाबाद, सम्भल, रामपुर और अमरोहा जिले में कई जगह बारिश के साथ ओले भी गिरे। बदायूं में सहसवान क्षेत्र में आकाशीय बिजली गिरने से कल्लू और रामकेश की मौत हो गई, जबकि सतीश, अनेकपाल व सुभाष जख्मी हो गए। मेरठ, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर में भी हल्की बारिश हुई।  

By Ashish Mishra