रायबरेली, [अजय सिंह]। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा दो दिवसीय दौरे पर रविवार की सुबह यहां पहुंचीं। जिले की सीमा में प्रवेश करते ही सबसे पहले उन्होंने चुरुवा स्थित प्रसिद्ध हनुमान मंदिर में मत्था टेका, इसके बाद आगे बढ़ीं। रास्ते में जगह-जगह पलक-पांवड़े बिछाए कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से उनका उनका स्वागत किया। कहीं ढोल-नगाड़े बजे तो कहीं फूलों की बारिश की गई।

करीब सालभर से पार्टी कार्यकर्ताओं को प्रियंका के आने का इंतजार था। अब जबकि विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू हो गई है, ऐसे में वे दो दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचीं तो कार्यकर्ताओं में उत्साह दिखना स्वाभाविक था। चुरुवा, बछरावां, कुंदनगंज, हरचंदपुर, गंगागंज, त्रिपुला, रतापुर आदि स्थानों पर ढोल-नगाड़े व फूलों से राष्ट्रीय महासचिव का स्वागत किया। नगर सिविल लाइंस में हुए स्वागत के बाद प्रियंका का काफिला परशदेपुर रोड पर मुड़ा। यहां से करीब 15 मिनट में भुएमऊ गेस्ट हाउस पहुंच गया। यहीं पर आहूत बैठक में शामिल होने बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी भी पहुंचे।

पहले जिला कमेटी, इसके बाद नगर व अन्य कमेटी के पदाधिकारियों की बैठक में प्रदेश प्रभारी विधानसभा चुनाव की तैयारियों को धार देंगी। माना जा रहा है कि इस बैठक में कतिपय पदाधिकारियों को चुनाव के मद्देनजर अतिरिक्त जिम्मेदारी दी जा सकती है। चुनाव को लेकर आगामी दिनों में जनता के बीच जाने की योजना को भी अमलीजामा पहनाया जाएगा। सोमवार की सुबह प्रियंका क्षेत्र के कुछ गांवों का भ्रमण कर सकती हैं। साथ ही लोगों से मुलाकात का भी कार्यक्रम है। इसके बाद वे लखनऊ रवाना होंगी।

मेहनत करता हूं, नगर अध्यक्ष हूंः बैठक में शामिल होने के लिए पार्टी पदाधिकारी पहुंचे तो सुरक्षाकर्मियों ने चेकिंग के लिए रोकना-टोकना शुरू कर दिया। इस दौरान एक  शख्स बोल पड़े, मैं पार्टी के लिए मेहनत करता हूं, मैं नगर अध्यक्ष हूं। इस पर पुलिसकर्मी ने सुरक्षा का हवाला दे चेकिंग कराकर ही भीतर जाने की बात कही।

और गाड़ी से नीचे उतर पड़ीं प्रियंकाः प्रियंका वाड्रा का काफिला सिविल लाइंस पहुंचा तो यहां स्वागत के लिए खड़ी एक महिला को टक्कर लग गई। महिला का कहना है कि प्रियंका ने गाड़ी से नीचे उतरकर कुशलक्षेम पूछा, इसके बाद आगे की लिए रवाना हुईं।

Edited By: Vikas Mishra