लखनऊ। पटाखे बनाने के लिए बारूद मथने के दौरान महोबा में एक आतिशबाज के घर विस्फोट हो गया। तेज धमाके की आवाज सुनकर लोग दहशत में आ गए। घटना से आतिशबाज के परिवार व पड़ोसियों सहित आठ लोग गंभीर रूप से झुलसे व घायल हो गए। वहीं पांच घर गिरने के साथ ही कई घरों में दरारे आ गई। सूचना मिलने पर पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और निरीक्षण किया। घायलों को उपचार के लिए चिकित्सालय में दाखिल कराया गया है। आतिशबाज का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया है।

कोतवाली कुलपहाड़ क्षेत्र के विजयपुर गांव निवासी भगवानदास भुर्जी पटाखे बनाने का काम करता आ रहा है। उसके पास लाइसेंस है लेकिन नियमों को ताक में रखकर उसके घर पर ही पटाखे बनाने का काम किया जाता है। बुधवार सुबह लगभग सात बजे पटाखे बनाने के लिए बारूद मथने के दौरान भगवानदास के घर में अचानक विस्फोट हो गया। इस घटना में घर के बाहर होने की वजह से भगवानदास तो बच गया, लेकिन उसके पुत्र परमसुख, मानसिंह, रीमा पत्नी मानसिंह, बबिता पत्नी परमखुस, गौरी पुत्री परमसुख के साथ ही पड़ोसी रेशमा पुत्री टेकचंद्र, जगमोहन व लक्ष्मण गंभीर रूप से झुलस गए और मकान गिरने से मलबे के नीचे गिरकर घायल हो गए। आतिशबाज को पुलिस ने पकड़ लिया है।

Edited By: Nawal Mishra