लखनऊ, जेएनएन। नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म करने और फोटो व वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने के एक शिक्षिका के आरोप पर गौतमपल्ली थाना पुलिस ने राज्य सूचना आयुक्त और उनके बेटे के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस ने जहां मामला दर्ज किया। वहीं अब पीडि़ता के बयान, घटनास्थल का मुआयना व अन्य जांच पुलिस जल्द करेगी। 

दरअसल, एक प्रतिष्ठित स्कूल की शिक्षिका की मुलाकात यहां के पूर्व छात्र मिलिंद राज से वर्ष 2016 में एक समारोह के दौरान हुई थी। इसके बाद 25 मार्च 2016 को मिलिंद ने शिक्षिका को जन्मदिन पार्टी के बहाने बुलाया। आरोप है कि मिलिंद ने घर पर महिला शिक्षक को नशीला पदार्थ पिला दिया। जिसके बाद शिक्षिका बेहोश हो गई। आरोपी ने उनके साथ दुष्कर्म किया और फिर वीडियो रिकॉर्डिंग के पास फोटो बना ली। पीडि़त शिक्षिका ने अपने पति को इसकी जानकारी दी। इस पर पति ने पीडि़ता को तलाक दे दिया। पीड़ित शिक्षिका ने कोर्ट में दुष्कर्म के आरोपी के खिलाफ केस करने का निर्णय लिया। जिस पर आरोपी मिलिंद राज और उनकी मां राज्य सूचना आयुक्त रचना पाल ने पीडि़ता को शादी कराने का झांसा देकर उनको अपने साथ ले गए। कई दिन बीत जाने के बावजूद मिलिंद राज ने पीड़ित से विवाह नहीं किया।

महिला ने यह भी आरोप लगाया है कि मिलिंद ने व्यवसाय के नाम पर उससे 10 लाख रुपये भी हड़प लिया है। शादी का दबाव बनाने पर मिलिंद ने फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी दी। पिछले दिनों सीजीएम ने गौतमपल्ली थाना पुलिस को मामला दर्ज कर विवेचना करने के आदेश दिए थे। कोर्ट के आदेश की प्रति पहुंचने पर गोमतीनगर थाना में मामला दर्ज हो गया है। गोमतीनगर इंस्पेक्टर सत्य प्रकाश सिंह ने बताया कि पीडि़ता के बयान और घटनास्थल की जांच जल्द की जाएगी। 

 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस