जागरण संवाददाता, लखनऊ। गोमतीनगर विस्तार स्थित गंगा अपार्टमेंट में 22 जुलाई को छापेमारी करने गई आयकर विभाग की टीम पर हमले के मामले में एफआइआर दर्ज की गई है। सहायक आयकर आयुक्त सिद्धार्थ कुमार ने फ्लैट नंबर 305 में रहने वाले संग्राम सिंह के अलावा अनिमेष त्रिपाठी, अमित सिंह, इंद्रभूषण शाही, गार्ड सुपरवाइजर आरएन पांडेय और सुहानी पांडेय के खिलाफ जानलेवा हमला, लूट, सरकारी कार्य में बाधा, गाली गलौज, धमकी समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट लिखाई है।

सहायक आयकर आयुक्त के मुताबिक वह विभाग के डीएम पनवलकर, प्रदीप सिंह, अनुराधा शर्मा, प्रवीन और पीएसी के जवानों के साथ छापा मारने गए थे। संग्राम सिंह के फ्लैट में टीम ने कार्रवाई शुरू की। इसी बीच अनिमेष त्रिपाठी 100 से अधिक की संख्या में लोगों को लेकर पहुंचे और फ्लैट में जबरन दाखिल हो गए आरोप है कि आरोपितों ने आयकर टीम के साथ अभद्रता की और मारपीट शुरू कर दी। यही नहीं, टीम को बंधक बना लिया और जान से मारने की कोशिश की। उग्र भीड़ को देखते हुए पीएसी के जवान भाग गए। आरोपितों ने पुलिस के सामने टीम के साथ जमकर मारपीट की और उन्हें गाड़ी से बाहर खींच लिया। इस दौरान पुलिसकर्मी मूकदर्शक बने रहे। हमलावरों ने सिद्धार्थ कुमार के कपड़े फाड़ दिए। इस दौरान मारपीट में उनके सिर में चोट आई। पूरी टीम को आरोपितों ने काफी देर तक कमरे में बंधक बनाकर रखा। उनके साथ बदसलूकी की गई थी।

अतिरिक्त पुलिस बल और आयकर के अधिकारियों के आने के बाद बंधक टीम वहां से बाहर निकल पाई। इस दौरान आरोपितों ने सरकारी दस्तावेज छीनकर फाड़ दिए। संग्राम सिंह ने अपने साथियों को आयकर टीम को जान से मारने के लिए उकसाया, जिसके बाद भीड़ हमलावर हो गई थी।

सिद्धार्थ कुमार की तहरीर पर पुलिस ने संगीन धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है। एसीपी गोमतीनगर श्वेता श्रीवास्तव के मुताबिक मामले की छानबीन की जा रही है। वीडियो फुटेज के जरिए अज्ञात आरोपितों की पहचान कर सभी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Rafiya Naz