श्रावस्ती, संवाद सूत्र। गिलौला ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय धुसवा में जांच करने पहुंचे खंड शिक्षा अधिकारी को शिक्षिका पर रौब झाड़ना भारी पड़ गया। शिक्षका व उसके पति ने बीईओ को कमरे में करीब एक घंटे तक बंधक बनाए रखा। इस मामले में बीईओ शिक्षका के आगे हाथ जोड़ते भी नजर आए। प्राथमिक विद्यालय धुसवा में सुबह बीईओ कृष्ण कुमार राणा निरीक्षण करने गए थे। उनके पहुंचने पर प्रधान शिक्षिका शीला कुमारी स्कूल में मौजूद नहीं थीं। इस पर बीईओ ने फोन कर समय से स्कूल न पहुंचने का कारण पूछते हुए उन्हें आड़े हाथों लिया।

इस दौरान बाइक से स्कूल आ रही शिक्षका व उनके पति हड़बड़ाहट में रास्ते में गिर गए। इससे दोनों घायल हो गए। शिक्षिका का मोबाइल फोन भी खराब हो गया। पति के साथ स्कूल पहुंची शिक्षिक से देरी के लिए बीईओ ने नाराजगी जताई। इस पर प्रधान शिक्षका व उसके पति उन पर विफर पड़े। बीईओ को कमरे में बंद कर इलाज के लिए कहीं चले गए। लगभग एक घंटे के बाद वापस लौटने पर उन्हें कमरे से बाहर निकाला।

खंड शिक्षा अधिकारी अपने चार पहिया वाहन में सवार होकर वहां से निकलने लगे तो स्थानीय ग्रामीणों के साथ शिक्षिका व उसके पति ने जबरन वाहन को रोक लिया। बीईओ को कुर्सी पर बिठाकर शिक्षिका टूटी मोबाइल का पैसा मांगने लगी। इस दौरान बीईओ शिक्षिका के सामने हाथ जोड़ते नजर आए। इसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।

'शिक्षिका व खंड शिक्षा अधिकारी के विवाद के संबंध में किसी भी पक्ष से कोई सूचना नहीं मिली है। बीईओ को गोशाला की जांच के लिए भेजा गया था। शुक्रवार को बीईओ कार्यालय आएंगे तो मामले की जानकारी होगी। इसके बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। -प्रमु राम चौहान, बीएसए, श्रावस्ती।