रायबरेली, [दिलीप मान सिंह]। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र के साथ ही केंद्रीय मंत्री व अमेठी सांसद स्मृति इरानी के संसदीय क्षेत्र के सलोन में भी बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। जिले में पिछले साढे़ आठ माह में 159 से अधिक बेटियां गायब हो चुकी हैं। इस बीच सबसे अधिक लड़कियां सलोन कोतवाली क्षेत्र से गायब हुई हैं। इसके बाद लालगंज, ऊंचाहार व सदर कोतवाली का नंबर है। पुलिस ने गायब हुई लड़कियों में से अधिकांश को बरामद कर लिया है। इसके बाद भी बेटियों के गायब होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है।

बेटियों पर आफत, हर दिन होता है अपराध

जिले में बेटियों पर इन दिनों आफत है। छेड़खानी से लेकर अपहरण व दुष्कर्म तक की घटनाओं का हर दिन बेटी शिकार हो रही है। मिशन शक्ति व पुलिस की तमाम सक्रियता के बाद भी मनचले अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहे हैं।

258 दिन में 159 लापता, 150 बरामद

पुलिस के रिकार्ड के मुताबिक पिछले 258 दिन में कुल 159 बेटियाें के गायब होने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। जिसमें पुलिस ने अब 150 लड़कियों को बरामद करने का दावा किया है। नौ की तलाश अब भी जारी है। वहीं तमाम लोग बेटियों के गायब होने की रिपोर्ट तक दर्ज नहीं कराते हैं। ऐसे मामलों में पुलिस की कोई जबावदेही भी नहीं होती है।

साढे़ आठ माह के आकड़ों पर डालें एक नजर

  • थाना              लापता  बरामद   तलाश
  • कोतवाली नगर   12        11        01
  • मिल एरिया        02        02        00
  • भदोखर            12        11         01
  • महिला थाना       00        00        00
  • लालगंज            15        14         01
  • सरेनी                11        11         00
  • खीरों                 05        05         00
  • गुरुबक्शगंज       11        10         01
  • डलमऊ            09         08        01
  • जगतपुर            06         05        01
  • गदागंज             03         03        00
  • ऊंचाहार            13         13        00
  • महराजगंज         02         02        00
  • बछरावां             11         10        01
  • शिवगढ़             05          04       01
  • हरचंदपुर           09          08       01
  • सलोन               16          16        00
  • नसीराबाद          05          05        00
  • डीह                  12          12         00
  • स्रोत : पुलिस विभाग, यह आंकड़ा बीते 15 सितंबर तक का है।

पूरी तरह सतर्क है पुलिस : एसपी

महिला संबंधित अपराध को रोकने के लिए पुलिस पूरी तरह सतर्क है। लड़कियों के गायब होने की सूचना मिलते ही पुलिस केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई करती है। गायब हुई अधिकांश लड़कियों को बरामद कर लिया गया है। वहीं पुलिस महिला बीट सिपाही के जरिए गांव-गांव जागरुकता लाने की कोशिश भी कर रही है।” -आलोक प्रियदर्शी, एसपी

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट