लखनऊ (जेएनएन)। दीपावली से पहले वाराणसी की मुस्लिम महिलाओं को इस्लाम से खारिज करने वाले देवबंद ने पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद को भी इस्लाम से खारिज कर दिया है। पूर्व विदेश तथा कानून मंत्र सलमान खुर्शीद ने संभल में कल्कि महोत्सव के उद्घाटन समारोह में भगवान राम की आती की थी।

सलमान खुर्शीद ने संभल में कल्कि महोत्सव के दौरान भगवान राम की आरती की थी। आरती करते हुए उनका फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद सहारनपुर के दारुल उलूम देवबंद ने उनको इस्लाम से खारिज कर दिया है। 

मनमोहन सिंह की सरकार में कानून मंत्री रहे सलमान खुर्शीद को इस्लाम से बाहर कर दिया गया है। संभल के कल्कि महोत्सव में सलमान खुर्शीद ने भगवान राम की आरती की थी। वहीं वीडियो सामने आने के बाद देवबंद के उलेमा ने उन्हें इस्लाम से बाहर कर दिया है। पूर्व कानून मंत्री तथा उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद से सांसद रहे सलमान खुर्शीद का एक वीडियो वायरल हुआ है। इस वीडियो में सलमान खुर्शीद कल्कि महोत्सव के दौरान भगवान श्री राम की आरती करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें: फतवा : राम की आरती करने वाली मुस्लिम महिलाएं ईमान से खारिज

सोशल साइट्स पर वीडियो वायरल होने के बाद देवबंद के उलेमा मुफ्ती तारिक क़ासमी ने सलमान खुर्शीद को तौबा करने की हिदायत दी है।

यह भी पढ़ें: श्रीराम की आरती करने वाली महिलाओं का निकाह भी समाप्त

उलेमा ने कहा है कि इस्लाम में किसी और की इबादत नहीं की जा सकती। यदि कोई ऐसा करता है तो उसे इस्लाम से बाहर कर दिया जाएगा। देवबंद के उलेमा ने इसे सही फैसला बताते हुए इस्लाम से खरिज होने के बाद फिर से कलमा पढऩे के बाद इस्लाम होने की बात कही है। 

यह भी पढ़ें: देवबंद का फतवा, सोशल साइट्स पर फोटो अपलोड न करें मुस्लिम महिलाएं

गौरतलब है कि दारुल उलूम देवबंद ने बीते शनिवार को फतवा जारी करते हुए कुछ महिलाओं को इस्लाम से खारिज कर दिया है। इन महिलाओं ने वाराणसी में दीपावली के दिन भगवान राम की आरती की थी, जिसको दारुल उलूम गुनाह मानता है।

 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस