लखनऊ, जागरण संवाददाता। Tejas Express इंदिरा नगर निवासी प्रदीप शर्मा को इस दीपावली पर नई दिल्ली से अपने घर आना था। वह कई ट्रेनों में रिजर्वेशन के लिए लंबी वेटिंग को लेकर परेशान थे। बुधवार को सुबह 8:15 बजे जब उन्होंने आईआरसीटीसी की वेबसाइट को चेक किया तो उनकी खुशी का ठिकाना न रहा। वेबसाइट पर 21 अक्टूबर के लिए नई दिल्ली से लखनऊ आने वाली तेजस एक्सप्रेस का रिजर्वेशन शुरू हो गया। उन्होंने एसी चेयर कार के रिजर्वेशन के लिए जब कोशिश की उस समय किराया 14 सौ रुपए दिखा रहा था। मात्र दो मिनट में ही 8: 17 बजे पर उनका टिकट बनकर जब मिला तो किराया दो हजार रुपए था, जबकि 300 से ज्यादा सीटें बुक हो चुकी थी।

इस बार दीपावली पर लखनऊ आने वाली ट्रेनों में जबरदस्त वेटिंग है। पुणे से आने वाली ट्रेनों में अब वेटिंग के टिकट भी नहीं मिल रहे हैं। मुंबई सहित अन्य महानगरों की ट्रेनों की स्थिति भी कुछ ऐसी ही है। अधिक डिमांड के चलते विमान का किराया भी अब बढ़ रहा है। नई दिल्ली से लखनऊ आने वाली उड़ानों का किराया 22 अक्टूबर को सात हजार रुपए तक पहुंच गया है।

इसी तरह मुंबई से आने वाली विमानों का किराया 5000 से बढ़कर 15000 तक हो गया है। कोलकाता ,हैदराबाद ,बेंगलुरु ,चेन्नई ,अहमदाबाद सहित अन्य शहरों से आने वाली ट्रेनों में बड़ी वेटिंग का असर विमान के किराए पर दिख रहा है। नई दिल्ली से लखनऊ आने के लिए ट्रेनों में 20 से 22 अक्टूबर तक सबसे अधिक डिमांड है। ऐसे में कारपोरेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस का एडवांस रिजर्वेशन 30 दिन पहले बुधवार को 21 अक्टूबर के लिए खुला था।

अन्य ट्रेनों का एडवांस रिजर्वेशन सुबह 8:00 बजे खुलता है वही तेजस का रिजर्वेशन सुबह 8:15 पर खुला। तेजस की चेयरकार में 648 सीटों की बुकिंग शुरू हुई। केवल 2 मिनट में ही 300 सीटें भर गई। आईआरसीटीसी ने न्यूनतम 14 सौ रुपए का किराया रखा था, लेकिन जैसे से सीटों की बुकिंग हुई यह किराया भी तेजी से बढ़ता गया। क्योंकि तेजस एक्सप्रेस में विमान की तरह डायनामिक फेयर का सिस्टम लागू होता है। इस कारण देखते ही देखते किराया 2000 से अधिक का हो गया। अभी भी 300 सीट खाली हैं, ऐसे में यह किराया और बढ़ेगा।

Edited By: Anurag Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट