अयोध्या, जेएनएन। भगवान राम के गोलोकगमन के साक्षी रहे गुप्तारघाट व बंधा तिराहा स्थित भजन संध्या स्थल पर दीपोत्सव के तीन दिनी कार्यक्रमों की तैयारियों को बुधवार को फाइनल टच दिया गया। दोनों स्थानों पर गुरुवार से ही दीपोत्सव की छटा बिखरेगी। गुप्तारघाट व भजन संध्या स्थल पर टेंट, लाइट व साउंड आदि को लगाने का काम बुधवार को देर शाम तक चलता रहा।

गुप्तारघाट स्थित कंपनी गार्डेन में गुरुवार को शाम छह बजे से अवधी लोकतंत्र ङ्क्षढढिया, बुंदेलखंड का राई सैरा लोकनृत्य, भजन व राजा भरथरी नौटंकी देखने को मिलेगी। अगले दिन 25 अक्टूबर को झारखंड के कलाकार छाऊ लोकनृत्य की प्रस्तुति करेंगे। सुंदरकांड पर नृत्य नाटिका भी होगी। लोगों को रामलीला व भजन देखने-सुनने को मिलेगा। दीपोत्सव के दिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शुरुआत भजन से होगी।उत्तराखंड के कलाकार लोकनृत्य की प्रस्तुति करेंगे। दर्शक गुप्तारघाट पर ही विदेशी रामलीला का भी लुफ्त ले सकेंगे। दीपोत्सव के कार्यक्रम का समापन रामायण पर आल्हा से होगा।

भजन संध्या स्थल पर गुरुवार को कठपुतली नृत्य, भजन, श्रीलंकाई रामलीला की प्रस्तुति होगी। अगले दिन 25 अक्टूबर को छत्तीसगढ़ की रामलीला, भजन व इंडोनेशियाई रामलीला होगी। दीपोत्सव के दिन इंडोनेशियाई रामलीला, कांवड़ प्रसंग, रामराज्याभिषेक पर नृत्य नाटिका व इंडोनेशियाई रामलीला का आयोजन किया जाएगा। इसकी तैयारियां बुधवार को भी होती रहीं। वहीं लघु मंचों को भी बनाने का कार्य आरंभ कर दिया गया है। अयोध्या शोध संस्थान के प्रशासनिक अधिकारी रामतीर्थ ने बताया कि गुरुवार से होने वाले कार्यक्रमों की तैयारी हो गई है।

आएंगे केंद्रीय पर्यटन मंत्री

26 अक्टूबर को दीपोत्सव के दिन केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रहलाद पटेल अयोध्या आएंगे। वे दोपहर करीब एक बजे लखनऊ से हेलीकॉप्टर से यहां पहुंचेंगे। रात नौ बजे के करीब सड़क मार्ग से लखनऊ रवाना हो जाएंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस