लखनऊ, जागरण संवाददाता। डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) की काउंसिङ्क्षलग से जुड़ी राहत की खबर है। एकेटीयू ने करीब 120 घंटे बाद राहत की सांस ली है। एकेटीयू के कुलपति प्रो विनीत कंसल ने गुरूवार देर शाम बयान जारी कर जल्द काउंसिलिंग शुरू होने की संभावना जताई है। शनिवार शाम से एकेटीयू की काउंसिलिंग प्रक्रिया ठप है। एकेटीयू की ओर से तर्क दिया गया कि काउंसिलिंग प्रक्रिया के तहत रैंकिंग में गड़बड़ी की बात सामने आ रही है।

जिम्मेदारों की दलील यह भी रही कि साफ्टवेयर में समस्या के कारण भी यह दिक्कत हो सकती है और मानवीय गलती के कारण भी। मगर 120 घंटे बीतने के बाद भी जिम्मेदार यह नहीं बता पा रहे हैं की गड़बड़ी क्यों और किस स्तर पर हुई है। गलती किसकी रही यह तो जांच का विषय है मगर इसका खामियाजा एकेटीयू में काउंसिलिंग के लिए पंजीकरण करा चुके 26 हजार से अधिक छात्र व कालेजों में रिपोर्ट कर फीस जमा कर चुके वाले विद्याार्थियों को भुगतना पड़ रहा। बता दें कि एकेटीयू में इस तरह की समस्या 

इन कोर्स से जुड़े अभ्यर्थियों का है मामलाः बीटेक, बी फार्मा, एमबीए, एमसीए,होटल मैनेजमेंट, बीफए समेत अन्य।

पिछले कुछ दिनों में विश्वविद्यालय द्वारा एनटीए एवं एनआइसी की टीमों के साथ बैठ कर समस्या को सुलझाने के प्रयास किये जा रहे थे। सकारात्मक परिणाम मिले हैं। एक से दो दिन में काउंसिलिंग प्रक्रिया पुन: शुरू किया जाना संभावित है। -प्रो विनीत कंसल, कुलपति, एकेटीयू

Edited By: Vikas Mishra