लखनऊ, जेएनएन। जानलेवा कोरोना वायरस के संक्रमण पर अंकुश लगाने के योगी आदित्यनाथ सरकार के प्रयास के बीच भी उत्तर प्रदेश में चार लोगों की मौत हो गई है। इसके बाद भी इसका संक्रमण रोज लोगों को अपने शिकंजे में ले रहा है। गुरुवार को यूपी में 39 पॉजिटिव केस मिले हैं, इसमें निजामुद्दीन मरकज से लौटे तब्लीगी जमात के नौ लोग शामिल हैं। 19 लोग तो हॉटस्पॉट के रूप में चयनित आगरा से हैं।

उत्तर प्रदेश में अब कोरोना पॉजिटिव की संख्या लगातार बढ़ रही है। गुरुवार को 39 नए संक्रमित लोग पाए गए हैं। इन्हें मिलाकर यूपी में अब तक कुल 425 संक्रमित लोग पाए जा चुके हैं। इसमें अकेले 230 तब्लीगी जमात के हैं। अब सर्वाधिक 84 कोरोना पॉजिटिव आगरा में हैं। उधर 459 संदिग्ध लोगों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया। अब तक कोरोना वायरस 41 जिलों में अपने पांव पसार चुका है।

गुरुवार को जो 39 नए कोरोना पॉजिटिव लोग मिले उनमें गाजियाबाद व औरैया में दो-दो और नोएडा में एक व्यक्ति मिला, जो तब्लीगी जमात के नहीं हैं। वहीं आगरा में 19 में से पांच, अमरोहा में पांच में से दो, मेरठ में छह में से तीन, अलीगढ़ में एक, मुजफ्फरनगर में एक, हरदोई में एक और कानपुर में एक मरीज तब्लीगी जमात का पाया गया। दूसरी ओर अभी तक जो कुल 425 कोरोना पॉजिटिव मिले, उनमें से 230 तबलीगी जमात के हैं। इसमें नोएडा में 63, पीलीभीत में दो, मुरादाबाद में एक बरेली में छह, बस्ती में आठ, कौशांबी में दो, रामपुर में पांच और बदायूं का एक मरीज पॉजिटिव मिला है।

जिन जिलों में तब्लीगी जमात के कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, उसमें आगरा में 84 में से 43, लखनऊ में 29 में से 17, गाजियाबाद में 25 में से 14, लखीमपुर खीरी में चार में से तीन, कानपुर में नौ में से आठ, वाराणसी में नौ में से चार, शामली में सभी 17, जौनपुर में चार में से तीन, बागपत में पांच में से चार, मेरठ में 44 में से 21, बुलंदशहर में आठ में पांच, हापुड़ में सभी तीन, गाजीपुर में सभी पांच, आजमगढ़ में सभी चार, फीरोजाबाद में सभी 11, प्रतापगढ़ में सभी छह, सहारनपुर में सभी 20, हरदोई में दो में से एक, शाहजहांपुर में एक, बांदा में सभी दो, महाराजगंज में सभी छह, हाथरस में सभी चार, रायबरेली में सभी दो, औरैया में चार में से एक, मुजफ्फरनगर में चार में से तीन, अमरोहा में सभी दो, बाराबंकी में एक, बिजनौर में एक, सीतापुर में सभी 10, प्रयागराज में एक ,मथुरा में एक ,बदायूं में एक, मुजफ्फरनगर में चार में से तीन, अमरोहा में सात में से चार और अलीगढ़ का एक मरीज शामिल है।

7898 की रिपोर्ट निगेटिव

यूपी में अभी तक कोई 8402 संदिग्ध लोगों की जांच कराई जा चुकी है। इनमें 7898 लोग की रिपोर्ट निगेटिव आई है, यानी इनमें कोरोना वायरस नहीं पाया गया है। 94 लोगों की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है।

21129 किए गए चिह्नित 

यूपी में गुरुवार को 21129 ऐसे लोग चिह्नित किए गए जो चीन या किसी अन्य देश की यात्रा करके वापस लौटे हैं। इन सभी को रैपिड रिस्पांस टीम की निगरानी में रखा गया है। अब तक 66036 ऐसे लोगों को चिह्नित किया जा चुका है।

31 कोरोना संक्रमित स्वस्थ

अभी तक प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित चार लोगों की मौत भी हो चुकी है। अब तक कुल 31 संक्रमित लोग अस्पताल से स्वस्थ होकर घर भेजे जा चुके हैं। इनमें आगरा के आठ, गाजियाबाद के तीन, नोएडा के 12, लखनऊ के पांच, कानपुर, शामली और पीलीभीत का एक-एक कोरोना संक्रमित शामिल हैं।   

कैंसर मरीज की मौत, कोरोना की जांच होगी

लखनऊ केजीएमयू मे गुरुवार शाम लाए गए मरीज को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। ऐसे में संक्रामक रोग यूनिट में भर्ती किया गया। एहतियात के तौर पर उसके कोरोना की जांच के लिए सैम्पल संग्रह किया गया। थोड़ी देर में उसकी मौत हो गई। आलमबाग रेलवे कॉलोनी निवासी 55 वर्षीय व्यक्ति को गले में कैंसर था। गुरुवार को उसकी सांस फूलने पर केजीएमयू लाया गया। संक्रामक रोग नियंत्रण यूनिट के इंचार्ज डॉ डी. हिमांशु के मुताबिक सांस की समस्या के भर्ती रोगी की कोरोना जांच कराना अनिवार्य है। ऐसे में उसका  सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया गया। है। देर रात उसकी मौत हो गई।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस