लखनऊ, जेएनएन। तब्लीगी जमातियों की वजह से उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ा तो सरकार ने भी सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। यूपी के 50 से अधिक क्षेत्रों को रेड जोन घोषित कर दिया गया है। यहां आवाजाही पर पूरी तरह रोक है। कई क्षेत्रों को सील भी किया गया है। ऐसे क्षेत्र रेड जोन में शामिल किए गए हैं, जहां कोरोना संक्रमितों की संख्या अधिक पाई गई है या कोई मौत हुई है।

राजधानी लखनऊ में मड़ियाव में आईआईएम रोड स्थित रायपुर के कुछ इलाके को सील कर दिया गया, जबकि गोमतीनगर स्थित विजय खंड का कुछ हिस्सा भी सील करने की तैयारी है। अभी तक पुराने लखनऊ में कैसरबाग, अमीनाबाद, वजीरगंज, सआदतगंज, तालकटोरा और चौक में नक्खास के कुछ इलाकों को सील किया गया है। यहां सैन्य इलाके से कर्फ्यू हटा लिया गया, जबकि 50 हजार की आबादी वाले असैन्य इलाके सदर बाजार में अघोषित कर्फ्यू है।

आगरा में कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर 22 क्षेत्रों को रेडजोन में रखा गया है। इसमें वह क्षेत्र शामिल हैं, जहां एक से अधिक कोरोना वायरस संक्रमित मिले हैं। आगरा में तीन और क्षेत्रों को रेडजोन में शामिल किए जाने का तैयारी है। प्रयागराज में पांच गांव और दो मोहल्ले रेड जोन में शामिल हैं। चार गांव तो इंदौर के सरकारी अस्पताल में तैनात महिला चिकित्सक के कोरोना पॉजीटिव होने के चलते पूरी तरह बंद किए गए हैं जो यहां अपने चिकित्सक पति के साथ आई थी और कई लोगों से मिली थी। कोटवा गांव भी रेड जोन घोषित किया गया है, जहां कोविड अस्पताल बनाया गया है। करेली और शाहगंज के मस्जिद वाले इलाके को भी रेड जोन घोषित किया गया है।

प्रतापगढ़ में चौक, बेगम वार्ड, ठठेरी बाजार, जेल रोड और रानीगंज थाना क्षेत्र के नरसिंहगढ़ और कौशांबी की सिराथू तहसील के पचंभा, रामपुर बढनावा, जहांगीराबाद व दुबाना गांव को जिला प्रशासन ने रेड जोन घोषित किया है। मेरठ में महाराष्ट्र से ससुराल आए संक्रमित युवक के कारण 17 नातेदार-रिश्तेदार संक्रमित हुए। इनमें श्वसुर की मौत हुई। इसकी वजह से शास्त्रीनगर सेक्टर 13 रेड जोन में है। मवाना के मोहल्ला मुन्नालाल और शामली के झिंझाना कस्बे में पूरी तरह लॉकडाउन है।

कानपुर में सात क्षेत्रों को रेड जोन घोषित किया गया है। यहां कोरोना के नौ संक्रमित मामले मिले हैं। एक किमी के दायरे में किसी का भी आना-जाना प्रतिबंधित है। बस्ती शहर के तुरकहिया ( गांधीनगर) निवासी एक युवक की कोरोना संक्रमण से मौत होने के बाद पूरे गांधीनगर के अलावा गिदही खुर्द, बेलवाडाडी को रेड जोन घोषित करते हुए सील किया गया है।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस