लखनऊ, जेएनएन। यूपी में कोरोना की जंग में डटे पुलिसकर्मियों ने इस संक्रमण को मात देने में भी कामयाबी हासिल की है। सूबे में अब तक कोरोना पॉजिटिव पाए गए 97 पुलिसकर्मियों में से 74 ने कोरोना को हराकर दूसरे साथियों का भी हौसला बढ़ाया है। कोरोना संक्रमण ने जिला पुलिस में तैनात कर्मियों के अलावा मेरठ पीएसी व जीआरपी लाइन चारबाग में भी सेंध लगाई है। पूर्व में कोरोना संक्रमण से दो पुलिसकर्मियों की मृत्यु भी हो चुकी है।

पुलिस में कोरोना की दस्तक के साथ ही डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने पुलिसकर्मियों की सुरक्षा के कड़े निर्देश दिए थे। अधिकारियों की जवाबदेही भी तय की थी। कानपुर, फीरोजाबाद व वाराणसी में सबसे अधिक पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। डीजीपी के पीआरओ एएसपी अभय नाथ त्रिपाठी ने बताया कि अब तक करीब 97 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन पुलिसकर्मियों में अब तक 74 पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। उन्होंने बताया कि अलग-अलग स्थानों पर कोरोना पॉजिटिव पाए गए पुलिसकर्मियों के संपर्क में आए पुलिसकॢमयों को भी क्वारंटाइन किया गया था।

लॉकडाउन उल्लंघन के 60 हजार मुकदमे : लॉकडाउन के निर्देशों का अनुुपालन कराने के लिए पुलिस लगातार मुस्तैदी बरत रही है। सूबे में अब धारा 188 के तहत पुलिस ने करीब 60 हजार मुकदमे दर्ज कर आरोपितों पर कार्रवाई की है। इसके अलावा आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत भी 659 एफआइआर दर्ज की गई हैं। पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान अब तक 13 लाख से अधिक वाहनों का चालान किया है और 23 करोड़ रुपये से अधिक शमन शुल्क वसूला गया है।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस