अयोध्या, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार की सुबह 11.30 बजे अयोध्या पहुंचे। अयोध्या में राम कथा पार्क स्थित हेलीपैड पर सीएम याेगी आदित्यनाथ का हेलीकाप्टर उतरा। इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरयू अतिथि गृह में दीपोत्सव के संबंध में अधिकारियों के साथ बैठक की।  

बैठक के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने सरयू नदी के आसपास के जिलों गोरखपुर, संत कबीरनगर, बस्ती, अयोध्या, गोंडा और बाराबंकी का हवाई सर्वेक्षण कर स्थिति का जायजा लिया। वहीं जिलाधिकारियों को इन जिलों के प्रभावित गांवों में राहत कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। साथ ही बाढ़ प्रभावित गांवों के लोगों एवं पशुओं को सुरक्षित स्थानों पर ठहराने के आदेश दिए। सीएम योगी ने जिलाधिकारियों को बाढ़ से हुई जनहानि, पशु हानि का निर्धारित मानकों के आधार पर सहायता एवं बाढ़ राहत सामग्री के पैकेट्स का वितरण तेज गति से करने का निर्देश दिया।

पिछले 24 घंटे में 16 जिलों में 25 मिमी से अधिक बारिश का रिकार्ड दर्ज किया गया है। ऐसे में गोरखपुर, लखनऊ, लखीमपुर खीरी, वाराणसी, बहराइच, अयोध्या, बरेली में आठ एनडीआरएफ की टीमें तैनात की गई हैं। इसके साथ ही बाराबंकी, गोरखपुर, लखनऊ, मुरादाबाद, बरेली, प्रयागराज, वाराणसी, इटावा, अयोध्या, मिर्जापुर में एसडीआरएफ की 15 टीमें लगाई गईं। 

बता दें 28 सितंबर को लता मंगेशकर के जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में लता चौक का उद्घाटन भी सीएम योगी ही करेंगे। लता मंगेशकर चौक के निर्माण की प्रगति पर मंथन किया जा रहा हैं। लता मंगेशकर के जन्मोत्सव के मौके पर मुख्यमंत्री अयोध्या में  मौजूद रहेंगे। वर्चुअल तौर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी लता मंगेशकर चौक के उद्घाटन समारोह से जुड़ेंगे।

Edited By: Vrinda Srivastava