लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं आत्मनिर्भर हो रही हैं। उत्तर प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन से जुड़े लाभार्थियों के सामूहिक प्रयासों से विकास व समृद्धि की दिशा में सार्थक परिणाम मिलना तय है। सीएम योगी ने बताया कि मिशन के माध्यम से महिलाओं को आर्थिक गतिविधियों से जोड़ा गया है और उन्हें रोजगार के बेहतर अवसर मिल रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अपने आवास पर 'मिशन शक्ति अभियान' के तहत आजीविका मिशन से जुड़े 40 हजार स्वयं सहायता समूहों को रिवाल्विंग फंड के तौर पर प्रत्येक समूह को 15 हजार रुपये 2606 समूहों को कम्युनिटी इंवेस्टमेंट फंड के तौर पर 1.1 लाख रुपये प्रति समूह के हिसाब से 88.66 करोड़ रुपये का आनलाइन हस्तांतरण किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अनुपूरक पुष्टाहार के उत्पादन व आपूर्ति के सापेक्ष फतेहपुर जिला इकाई की महिलाओं को 45,59,915 रुपये व उन्नाव की जिला इकाई की महिलाओं को 46,37,567 रुपये के चेक वितरित किए। उन्होंने लाभार्थियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि महिलाएं अपने स्वरोजगार की स्थापना कर सकेंगी, जिससे उनका जीवन स्तर बेहतर होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी उन्मूलन व सामाजिक व आर्थिक सशक्तीकरण की दिशा में दीनदयाल अंत्योदय योजना एनआरएलएम महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। सरकार के विशेष प्रयासों से आजीविका मिशन में 4.8 लाख स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से लगभग 52 लाख परिवारों को जोड़ा गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविड-19 के समय में आजीविका मिशन से संबंधित समूह की सदस्यों ने प्रदेश के 75 जिलों के 826 विकासखंडों में सतत विकास को मूर्त रूप देने में अपनी सार्थकता को सिद्ध किया है। कोविड-19 के प्रति जागरूकता व बचाव कार्य में वर्ष 2020-21 में खादी विभाग से कपड़े की आपूर्ति के माध्यम से 20,396 स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों द्वारा 1.23 करोड़ मास्क और 1223 सदस्यों द्वारा 50,714 पीपीई किट का निर्माण किया गया। एक करोड़ 55 हजार स्कूल ड्रेस की सिलाई करायी गयी है, पुष्टाहार उत्पादन इकाई की स्थापना कर पुष्टाहार तैयार कर आंगनबाड़ी केंद्रों में वितरण किए जाने का निर्णय लिया गया।

ग्राम्य विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में नारी सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन की दिशा में उल्लेखनीय कार्य किए गए हैं। महिला सशक्तीकरण की दिशा में मजबूती मिली है। इस मौके पर कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव एमएसएमई व सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज व ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, आजीविका मिशन के निदेशक भानुचन्द्र गोस्वामी आदि उपस्थित थे।

Edited By: Umesh Tiwari