लखनऊ, जागरण संवाददाता। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर रविवार को हजरतगंज के सुभाष चौक पहुंचकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नेता जी सुभाष चंद्र बोस देश को आजाद कराने के अग्रिम नेताओं के महानायक थे। सिविल सेवा के माध्यम से अच्छी सेलरी पर भारत व ब्रिटेन रहकर नौकरी कर सकते थे और अपने परिवार की देखभाल कर सकते थे, लेकिन उन्हें ब्रिटिश हुकूमत की चाकरी पसंद नहीं थी।

सीएम योगी ने आगे कहा, उन्हें तो भारत की स्वाधीनता से बढ़कर कुछ नहीं था। उन्होंने भारत की स्वाधीनता के लिए नौकरी की तिलांजलि दी। सबकुछ त्याग दिया। उन्होंने कांग्रेस का अध्यक्ष पद भी त्याग दिया था। देश के बाहर रहकर आजाद हिंद फौज का गठन करके और देश के नवयुवकों को नया स्लोगन दिया था, वह था कि तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा, जो आजादी का मंत्र बन गया। 

बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय में कुलपति प्रो.संजय सिंह ने नेता जी के चित्र पर माल्यार्पण कर उनकी जीवनी पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि नेता जी ने राष्ट्रप्रेम में अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया। उन्होंने देशहित में कार्य कर समाज मे एक आदर्श प्रस्तुत किया, उसी प्रकार प्रत्येक मनुष्य को देशहित को ध्यान में रखकर कार्य करना चाहिए। एनसीसी अधिकारी कैप्टन डा. राजश्री के संयोजनमें आयोजित पराक्रम दिवस में कुलसचिव प्रो. एस विक्टर बाबू, उन्नत भारत आभियान के अध्यक्ष प्रो. नवीन कुमार अरोरा, आजादी का अमृत महोत्सव समिति और जेंडर चैंपियन समिति की अध्यक्ष प्रो. शिल्पी वर्मा, डा.मनोज कुमार डडवाल , डा. रवि शंकर वर्मा, एसके दीक्षित समेत एनसीसी कैडेट, शिक्षक व विद्यार्थी शामिल हुए।

बंगाली क्लब आए नेता जी सुभाष चंद्र की स्मृतियों को याद कर रविवार को क्लब के अध्यक्ष अरुण कुमार बनर्जी के संयोजन में दीपदान दान के साथ श्रद्धांजलि दी गई। अध्यक्ष ने कहा कि 82 साल बाद भी सुभाष चंद्र बोस को दिए गए अभिनंदन पत्र की प्रतिलिपि और क्लब के सदस्यों के साथ खिंचवाई गई फोटो मौजूद है। कोरोना गाइड लाइन के अनुपालन के साथ लोगों ने श्रद्धांजलि दी। लखनऊ बंगीय नागरिक समाज के अध्यक्ष पीके दत्ता के संयोजन में हजरतगंज के सुभाष चौक पर श्रद्धांजलि दी गई। पीके दत्ता ने बताया कि अमीनाबाद के झंडे वाला पार्क में भाषण देकर युवाओं के अंदर देशभक्ति का जज्बा पैदा कहया था। उसी दौरान लखनऊ के एसके वर्मन व टीपी दत्ता आजाद हिंद फौज मेें शामिल हुए थे।

दीपदान के साथ उन्हें याद किया गया। वहीं प्रोबासी बाेंगीय समाज के सचिव आलोक मित्रा व आरएन बोस की मौजूदगी में कानपुर रोड एलडीए कालोनी के नेवरहुड पार्क में नेता जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। वहीं अखिल भारतीय जिज्ञासा क्लब की ओर से आयोजित रचना प्रतियोगिता में अनिल अंनत, ममता जोशी, अमित गुप्ता, एसएस निगम,विशेष्वरी शास्त्री,संगीता व अंजना समेत कई लोगों ने हिस्सा लिया। मनकामेश्वर मंदिर में महंत देव्या गिरि के सानिध्य में नेता जी को श्रद्धांजलि दी गई तो मनकामेश्वर मंदिर वार्ड के प्रेरणा मंदिर पार्षद रेखा रोशनी के संयोजन में आयोजित कार्यक्रम में वरिष्ठ नागरिक ब्रज किशोर दिवेदी, उदय सिंह,विष्णु तिवारी,ओम यादव, भुवन पांडेय, धर्मेश यादव, कृपा शंकर वर्मा व पूर्व पार्षद रणजीत सिंह समेत कई लोगों ने माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी।

Edited By: Vikas Mishra