लखनऊ, जेएनएन। केंद्र सरकार की ई-संजीवनी सेवा सोमवार से शुरू होगी। इसमें केजीएमयू के डॉक्टर प्रदेश के विभिन्न पीएचसी में आए मरीजों से लाइव हो सकेंगे। इसके लिए टेली मेडिसिन के हेल्थ राडार सिस्टम के लिए डॉक्टरों की ड्यूटी लिस्ट जारी कर दी गई है।

केजीएमयू के टेली मेडिसिन सेंटर सेंटर से अभी मेरठ व लखनऊ के कुछ पीएचसी कनेक्ट किए गए हैं। इसके बाद राज्य की सभी पीएचसी, यूपीएचसी, सीएचसी व जिला अस्पताल ई-संजीवनी सेवा से जुड़ेंगे। सोमवार से प्रथम चरण की चयनित पीएचसी के मरीज केजीएमयू डॉक्टर से सलाह ले सकेंगे।

सुबह नौ बजे से चार बजे तक उपलब्ध रहेंगे डॉक्टर

टेली मेडिसिन सेंटर की नोडल अफसर डॉ. शीतल वर्मा के मुताबिक डॉक्टरों की ड्यूटी सुबह नौ से शाम चार बजे तक रहेगी। यह डॉक्टर हेल्थ राडार सिस्टम के जरिये पीएचसी के वेब कैमरे से कनेक्ट होंगे। डेस्कटॉप व एलईडी के जरिये वह मरीज को लाइव देख व बातचीत कर सकेंगे। इसके लिए इंटरनेट सेवा के साथ-साथ डॉक्टरों की ड्यूटी लिस्ट भी जारी कर दी गई है।

आज सांस के रोगियों को मिलेगी सलाह

नौ दिसंबर को रेस्पेरेटरी मेडिसिन के डॉ. दर्शन बजाज मरीजों को सांस रोग संबंधी परामर्श देंगे। इसके बाद दस दिसंबर को मेडिसिन के डॉ. वीरेंद्र आतम, 11 दिसंबर को ऑब्स एंड गाइनी की डॉ. विनीता दास, 12 दिसंबर को पीडियाट्रिक्स की डॉ. सिद्धार्थ, 13 दिसंबर को कार्डियोलॉजी के डॉ. ऋषि सेठी, 14 दिसंबर को आर्थोपेडिक के डॉ. अजय सिंह, 16 दिसंबर को रेस्पेरेटरी मेडिसिन के डॉ. अजय कुमार वर्मा, 17 दिसंबर को डॉ. वीरेंद्र आतम, 18 दिसंबर को डॉ. विनीता दास, 19 दिसंबर को पीडियाट्रिक के डॉ. सिद्धार्थ समेत 31 दिसंबर तक विभिन्न विभागों के चिकित्सक मौजूद रहेंगे। एक जनवरी से नया ड्यूटी रोस्टर जारी होगा।

आज इन पीएचसी में मिलेगी सुविधा

लखनऊ की छितवापुर, बरावनकलां, त्रिवेणीनगर, आइआइएम रोड व सेवासदन यूपीएचसी केजीएमयू से कनेक्ट होंगी। वहीं, मेरठ की राजपुरा, फफूंदा, कलीना, अगुवनपुर, डोडली यूपीएचसी को सोमवार से हेल्थ रडार से कनेक्ट किया जाएगा।

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस