लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटी भारतीय जनता पार्टी प्रदेश में हर वर्ग के सम्मेलनों के क्रम में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन भी आयोजित कर रही है। लखनऊ में भाजपा के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी दलों के साथ ही देवी-देवातओं पर टिप्पणी करने वालों पर जोरदार हमला बोला। इसके साथ ही कांग्रेस तथा समाजवादी पार्टी पर आपदा के दौर में मैदान छोड़ देने पर तंज कसा।

लखनऊ में शहर उत्तरी विधानसभा क्षेत्र के अलीगंज में प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन पंचायती राज निदेशालय के सभागार में आयोजित किया गया। गोरखपुर दौरे से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सीधा इस सम्मेलन में पहुंचे। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि आजकल तो देवी-देवताओं पर अनर्गल टिप्पणी करने वाले काफी लोग सामने आ रहे हैं। मेरा मानना है कि हमारे देवी-देवताओं पर टिप्पणी करना एक्सीडेंटल हिन्दू की प्रवृति है। देवी-देवताओं पर टिप्पणी करना, राम और कृष्ण को नकारना उनकी प्रवृत्ति का हिस्सा है, अब कोई एक्सीडेंटल हिन्दू होगा तो यही तो होगा। एक पार्टी आप देख रहे हैं। आपदा आती है तो इटली चले जाते हैं। उनको यूपी से सब-कुछ चाहिए मगर देंगे कुछ नहीं। वे एक्सिडेंटली हिन्दू हैं। एक्सीडेंट बार बार नहीं दोहराने देंगे। उसको हमारे देश की संस्कृति, धर्म तथा विभिन्न प्रकार की सभ्यता से तो परिचित होना ही होगा।

हमारे लिए व्यकित से बड़ा दल और दल से बड़ा देश : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे लिए व्यक्ति से बड़ा दल है और दल से बड़ा देश है। भाजपा कार्यकर्ता के लिए सत्ता प्राप्त करना और शासन करना मात्र लक्ष्य नहीं है। भाजपा मूल्यों और आदर्शों को लेकर राजनीति में आई है, जिससे देश की आस्था जुड़ी है।

जिनको यूपी ने शीर्ष पर पहुंचाया वह करने लगे प्रदेश व देश की बुराई : मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने तो जिन लोगों को प्रधानमंत्री के पद तक पहुंचाया है। वह लोग उत्तर प्रदेश से बाहर जाते हैं तो उत्तर प्रदेश की काफी बुराई करते हैं। देश से बाहर जाने पर देश पर ही टिप्पणी करते हैं। उत्तर प्रदेश में इससे पहले तो किसी भी संकट में समय में लोग या तो प्रदेश से बाहर भाग जाते थे या फिर अपने क्षेत्र में सिमट पर नाच-नौटंकी में व्यस्त हो जाते थे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश ने कोरोना प्रबंधन का माडल सेट किया है। इसी दौरान देश में जब आपदा आती है तो एक पार्टी के लोग इटली भाग जाते हैं। पूर्वांचल के लोग जब बीमारी से पीडि़त थे और उत्तर प्रदेश बेहाल रहता था तब सैफई में नाच-गाने का मंचन होता था।

देश को शीर्ष पर लाए पीएम मोदी :  सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को शीर्ष पायदान पर लाकर खड़ा किया है। मोदी जी ने पूर्वोत्तर राज्यों के साथ संवाद स्थापित किया जो आजादी के बाद से अधूरा था। सदी की इस महामारी के दौरान अमेरिका के मुकाबले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत का कोरोना प्रबंधन बेहतरीन रहा। नेतृत्व जब समर्थ होता है तो पूरा देश साथ चलता है। 135 करोड़ की ताकत का भारत जब बोलेगा तब सब मजबूर होंगे। आप जैसा प्रबुद्ध वर्ग समाज के हर वर्ग में जा सकता है। यहां अधिवक्ता, चिकित्सक, कारोबारी भी हैं। आप सब समाज का नेतृत्व करते हैं। आप हर जगह हैं। आप मूल्यों और आदर्शों के साथ समाज में जाते हैं। आप बता सकते हैं कि देश का हित क्या है। कई बार स्वयं के हित मजबूत हो जाते हैं। अगर देश कमजोर होगा तो आप कमजोर होंगे। आप देश को मजबूत बना लिये। व्यक्तिवाद से ऊपर उठकर राष्ट्रधर्म की बात कीजिये। हम अपने सारे कार्यकर्तओं को यही बताते हैं। देश को गठबंधन के जरिये राजनैतिक स्थिरता दी थी। जब कोई देश के खिलाफ आया तो भाजपा ने जज्बा दिखाया। छोटे छोटे कारोबारियों को सुविधा दी, गरीबों को मदद की। जब स्पेनिश फ्लू आया था तब बीमारी से कम भूख से एक भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई। जिन गरीबों के छोटे खर्च नही पूरे हुए वह भी पूरे किए। नार्थ ईस्ट में बुरा हाल था। अलग अलग ग्रुप खड़े थे। सात साल में हालात बदल गए। असम, मणिपुर और अरुणाचल में हमारी सरकार है। हर केंद्रीय मंत्री नार्थ ईस्ट जा रहे हैं। वहां भी आत्मीयता की बात आई। नेतृत्व पर निर्भर करता है तो वह देश को आगे ले जाता है। पूरा देश उसके पीछे चलता है। भारत की आस्था का सम्मान हो। यही कहने के लिए आपके पास आया हूँ।

आपने समर्थन दिया और बदले में हमने आपको सुशासन

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आपने समर्थन दिया और बदले में हमने आपको सुशासन दिया। प्रदेश के डीजीपी आफिस के पास माफिया की बिल्डिंगें थीं। मुझे एक डीजीपी की विदाई में इस बात की जानकारी हुई थी। तब हमने कोशिश की। जब कामयाबी नहीं मिली तो बुल्डोजर तो है ही। हमने बुल्डोजर चलना शुरू कर दिया। बुल्डोजर तो हमारे पास है। युवाओं को सुरक्षा के वातावरण में नौकरी दी। लखनऊ ही नहीं ललितपुर, सहारनपुर और पश्चिम तक पहुंच गए। वहां सरकार पहुंचती नहीं थी। सरकार में बैठे हुए अफसर नहीं माफिया और ठेकेदार सरकार में योजना बनाते थे। सपा सरकार में कृषि मंत्री पूर्वी उत्तर प्रदेश आए थे। हम बातचीत कर रहे थे। मैंने गन्ने की बीमारी की बात कही थी। मंत्री छह माह से कार्यालय नहीं गया। समझ आ गया प्रदेश की सरकार कैसे चल रही है। परिवार की सरकार थी। बेईमानी और भ्रष्‍टाचार सिर चढ़कर बोल रहा था। माफिया की सरपरस्ती स्वीकार थी। यही उत्तर प्रदेश में हो रहा था। 15 साल से यही हो रहा था। मुझे विपक्ष की बातों पर ताजुब्ब होता है। वो आज विकास की बात करते हैं। जब पूर्वांचल में बाढ़ थी। तब सैफई में नाच गाने का मंचन होता था।

सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज की व्यवस्था कर दी

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जब हमने सत्ता संभाली तो 75 जनपदों में से मात्र 12 जनपदों में मेडिकल कॉलेज थे और आधुनिक स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं थीं। अगर तब कोरोना महामारी आ गई होती तो प्रदेश की क्या हालत होती। हमने धीरे-धीरे सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज की व्यवस्था कर दी है। पहले हम देश के राज्यों में छठवीं अर्थव्यवस्था थे, लेकिन हम छलांग लगाकर दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बने हैं। उन्होंने कहा कि हमने कानून-व्यवस्था को पटरी पर लाने का काम किया है। अब कोई माफिया किसी सरकारी या गरीब की जमीन पर कब्जा नहीं कर पा रहा है। माफिया के कब्जे में रही प्रयागराज में 100 एकड़ भूमि तो हमारे सुपुर्द की गई है। वहां गरीबों के लिए मकान बनेंगे। बीते साढ़े चार वर्षों में यूपी में एक भी दंगा नहीं हुआ है। जनता ने हमें समर्थन दिया और हमने उन्हेंं सुरक्षा दी।

मंदिर पर फैसला आने के बाद लोगों का भ्रम टूटा :  मुख्यमंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट से राम मंदिर पर फैसला आने के दौरान लोग व अधिकारी कहते थे कि राम मंदिर पर फैसला हो जाएगा तो ऐसा हो जाएगा, वैसा हो जाएगा। मैंने कहा कि देखना एक मच्छर भी नहीं मरेगा, मैं सब संभाल लूंगा और जब रामजन्म भूमि का फैसला आया तो उस दिन प्रदेश में राम राज्य था। अयोध्या की दीप दीपावली देश के लिए एक आयोजन बन गया है। 500 वर्षों से जमी बर्फ कैसे पिघल गई। वहां मंदिर की नींव ऐसी बन रही है कि 1000 वर्ष तक उनकी नींव नहीं हिलेगी। प्रदेश में मेरे सीएम बनने के बाद दीपावली आई तो अधिकारियों ने मुझसे भेंट की इच्छा जताई। मैंने अयोध्या में दिवाली कैसी होती है, इसके लिए टीम भेजी। अधिकारी बोले कि अयोध्या जाएंगे तो बदनामी हो सकती है। मैंने कहा अयोध्या के लिए हम बदनामी भी सहने को तैयार है।

बनेगा सबसे भव्य और सुरक्षित मन्दिर :  मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या में दुनिया का सबसे भव्य और सुरक्षित मन्दिर बनेगा। एक हजार साल तक मन्दिर रहेगा। अयोध्या का फैसला आया तो एक मच्छर भी नहीं मरा। एक सामान्य छिनैती भी नहीं हुई थी। वह रामराज्य का दिन था। अयोध्या मथुरा, काशी उत्तर प्रदेश में है। आस्था के इन केंद्रों पर गर्व करें। अगले छह महीने में भाजपा के मिशन का हिस्सा बनिये। कोई देश को नुकसान करे तो यह मत कहना कि मेरा क्या। समाज सुरक्षित है तो हम भी सुरक्षित है।

Edited By: Dharmendra Pandey