लखनऊ, जेएनएन। समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल को आज उस समय करारा झटका लगा जब इन दलों के कई दिग्गज नेताओं ने अपने समर्थकों समेत भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली। भाजपा चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले ही अपनी तैयारी पूरी करने में जुटी है। वह बूथ स्तर तक मजबूती के लिए हर संभव कदम उठा रही है।

महेंद्र नाथ पांडेय ने दिलाई पार्टी की सदस्यता
भाजपा मुख्यालय में बुधवार को पूर्व मंत्री वेदराम भाटी, पूर्व सांसद सारिका बघेल समेत बसपा, रालोद और सपा के कई नेताओं को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने पार्टी की सदस्यता दिलाई। गौतमबुद्ध नगर के जेवर से दो बार और सिकंदराबाद से दो बार विधायक रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री वेदराम भाटी ने बसपा छोड़कर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने उन्हें सदस्यता दिलाई। वेदराम भाटी के भाजपा में जाने से गुर्जर वोट बैंक बसपा छोड़कर भाजपा के साथ जा सकता है। इससे भाजपा प्रत्याशी को काफी बल मिलने की उम्मीद है।

विपक्ष के छद्म युद्ध का मुंह मोड़ रही आईटी सेलइस बीच एक भाजपा प्रदेश प्रवक्ता बताया कि उत्तर प्रदेश के आइटी वालंटियर की निगाह विपक्ष की एक-एक हरकत पर है। उनके द्वारा फैलाई अफवाहों को जगजाहिर करने के साथ ही विकास और राष्ट्रवाद की भावना से कार्यकर्ता कार्य कर रहे हैं। चुनाव में विपक्ष एजेंसियों के जरिये फर्जी पोस्ट क्रिएट करा रहा है लेकिन, भाजपा के समर्पित आइटी कार्यकर्ता उनके छद्म युद्ध को तहस-नहस कर रहे हैं। लोकसभावार सम्मेलनों में वालंटियर को आइटी की बारीकियां बताई जा रहीं है।

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस