लखनऊ (जेएनएन)। केंद्र सरकार पर विपक्ष का विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है। एससी-एसटी एक्ट को लेकर भारत बंद के बाद आज कांग्रेस का पेट्रोल-डीजल व रसोई गैस की बढ़ती कीमतों के विरोध में भारत बंद है। कांग्रेस को प्रदेश में एक दर्जन से अधिक दलों का समर्थन मिला है।

भाजपा सरकार की आर्थिक नीतियों के खिलाफ विपक्ष ने बिगुल बजा दिया है। कांग्रेस ने भारत बंद का आह्वान किया है जबकि, समाजवादी पार्टी ने तहसील मुख्यालयों में धरना-प्रदर्शन का फैसला किया है। कांग्रेस के आज भारत बंद को 21 विपक्षी दलों का साथ मिला है। इनका भारत बंद पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के साथ रुपए में गिरावट और बढ़ती महंगाई पर है। राष्ट्रीय लोकदल, लोकतांत्रिक जनता दल समेत कई राजनीतिक दलों ने भी सरकार के खिलाफ बंद का समर्थन किया है।

लखनऊ में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर के नेतृत्व में नेता हजरतगंज तथा जनपथ मार्केट में दुकानें बंद करा रहे हैं। 

यूपी में समाजवादी पार्टी ने भी भारत बंद से अलग बढ़ती महंगाई और किसानों के मुद्दे को लेकर प्रदेशव्यापी धरने का ऐलान किया है। समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के भारत बंद में शामिल होने की जगह प्रदेशव्यापी धरने का ऐलान किया है। आज सपा कार्यकर्ता सभी जिला मुख्यालयों पर महंगाई, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और किसानों के मुद्दों को लेकर धरना देंगे। बसपा ने कांग्रेस के भारत बंद के आह्वान पर चुप्पी साध ली है।बसपा ने भी कांग्रेस के भारत बंद पर समर्थन का ऐलान नहीं किया है। भारत बंद के सहारे कांग्रेस 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी एकजुटता का प्रदर्शन करना चाहती है। उसे वाम दलों के साथ-साथ 21 पार्टियों का समर्थन मिला है लेकिन अगर उत्तर प्रदेश की बात करें तो तीन मुख्य विपक्षी दल-सपा, बसपा और कांग्रेस अलग-अलग दिखाई दे रहे हैं। 

प्रदेश में आज कांग्रेस का हल्ला बोल सुबह नौ बजे से दोहपर तीन बजे तक है। पुलिस ने इसको देखते हुए एहतियातन सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लिए हैं। पुलिस ने किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए अलग अलग टीम गठित की है। कांग्रेस का भारत बंद महंगाई और राफेल डील पर भी है। कांग्रेस ने आज पेट्रोल-डीजल की मंहगाई, महंगे गैस सिलेंडर की मार, राफेल डील में भ्रष्टाचार जैसे अनेक मजदूर किसान और आम जन विरोधी मुद्दों को लेकर भारत बंद की घोषणा की है। दरअसल, सरकार इन सभी विषयों पर मौन है। इसी के चलते कांग्रेस जनता का अपार समर्थन मिलने का दावा कर रही है।

कांग्रेस के इस भारत बंद में अन्य दलों का समर्थन है। इसके साथ ही समाजवादी पार्टी का प्रदेशव्यापी प्रदर्शन भी आज है। आज समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर सपा प्रदेश के हर तहसील मुख्यालय पर धरना-प्रदर्शन करेगी। किसानों की बढ़ती परेशानी, पेट्रोलियम के दामों में वृद्धि और बेतहाशा महंगाई, कानून-व्यवस्था की बदहाली और युवाओं के दमन के मुद्दे को लेकर होगा। माना जा रहा है कि सपा के इस आंदोलन को जनता का अपार समर्थन है। आज सपा मुख्यालय में होने वाली जिला व महानगर अध्यक्ष, महासचिवों की बैठक निरस्त कर दी गई है।

वाराणसी में भारत बंद के समर्थन में सड़क पर उतरे समाजवादी पार्टी के कई कार्यकर्ताओं ने जंजीरों और तस्वीरों के साथ प्रदर्शन किया। कांग्रेस तथा विपक्षी दलों के नेता आज सुबह से ही भारत बंद कराने को लेकर बेहद सक्रिय है। मथुरा में इस बंद का असर दिखाई दे रहा है। यहां पर सुबह से कांग्रेस कार्यकर्ता मोटरसाइकिल से शहर के विभिन्न क्षेत्रों की दुकानों को बंद कराते रहे। होली गेट चौराहा पर सभी कचौड़ी व चाय आदि की दुकानों के साथ दूध की डेयरी बंद हैं। पूर्व विधायक प्रदीप माथुर के साथ शहर अध्यक्ष आबिद हुसैन तथा दर्जनों कार्यकर्ता होली गेट पर मौजूद हैं। इस बंद को देखते हुए शहर में हर चौराहे पर पुलिसकर्मी ओर फायर ब्रिगेड की गाड़ी मुस्तैद है।

बंद के अहम मुद्दे

पेट्रोल-डीजल की मंहगाई

मंहगे गैस सिलेंडर की मार

राफेल डील में भ्रष्टाचार

मोदी सरकार सिर्फ उद्योगपतियों की चिंता। 

पुलिस अलर्ट 

कांग्रेस की अपील पर भारत बंद को लेकर पीएम के संसदीय क्षेत्र में वाराणसी में  प्रशासन कुछ अधिक ही अलर्ट मोड पर है। विरोध प्रदर्शन करने वालों का तो अभी कोई जत्था सड़क पर नहीं दिख रहा लेकिन एसएसपी के नेतृत्व में फोर्स चक्रमण करने लगी है।

आज के भारत बंद को देखते हुए डीजीपी मुख्यालय ने पुलिस के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जिलों में पुलिस फ़ोर्स को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए हैं। ट्रेन, स्कूल, बाज़ारों, बस अड्डों, रेलवे स्टेशन, सरकारी ऑफिस, कोर्ट में एंटी रॉयट उपकरणों के साथ पुलिस की तैनाती के निर्देश दिए गए हैं। भारत बंद के दौरान भीड़ जुटने पर उसकी वीडियोग्राफी के निर्देश दिए गए हैं। सभी पुलिस कप्तानों को नागरिकों के जीवन और संपत्ति की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा है।

Posted By: Dharmendra Pandey