लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के 70 जिलों में देशी-विदेशी शराब व मॉडल शॉप आदि का व्यवस्थापन शनिवार को कराया गया। दूसरे चरण में कुल 1897 दुकानों का ई-लाटरी से आवंटन हो गया है, इसमें सरकार को करीब 164 करोड़ रुपये का राजस्व लाइसेंस फीस के रूप में मिलेगा। शेष 1881 दुकानों का व्यवस्थापन अगले चरण में पूरा कराया जाएगा।

प्रमुख सचिव आबकारी संजय आर भूसरेड्डी ने बताया कि देशी शराब की 1690, विदेशी शराब की 595, बीयर की 614, भांग की 591 दुकानों और 248 मॉडल शॉप का व्यवस्थापन द्वितीय चरण में ई-लाटरी से होना था। ई-लाटरी 26 मार्च को कराई जानी थी लेकिन, लॉकडाउन के कारण तारीख बढ़ाकर छह जून कर दिया गया था। शनिवार को यह प्रक्रिया 70 जिलों में पूरी की गई है। इसमें देशी शराब की 953, विदेशी शराब की 397, बीयर की 268, भांग की 124 दुकानों और 115 मॉडल शॉप का व्यवस्थापन हुआ है।

देशी शराब की आवंटित 953 दुकानों में करीब तीन करोड़ बल्क लीटर का कोटा भी तय किया गया है। लाटरी के दूसरे चरण में विज्ञापित दुकानों के लिए कुल 4445 आवेदनपत्र मिले थे। शेष दुकानों का व्यवस्थापन ई-लाटरी से अगले चरण में कराया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस