लखनऊ, जेएनएन। Action of Dy CM Brajesh Pathak Against Corruption: प्रदेश के चिकित्सा, स्वास्थ्य तथा परिवार कल्याण विभाग में व्यापक भ्रष्टाचार तथा अनियमितता के खिलाफ उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक की कड़ी कार्रवाई जारी है। भ्रष्टाचार के खिलाफ सरकार की जीरो टालरेंस नीति (Zero Tolerance Policy) के तहत डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने गुरुवार को कड़ी कार्रवाई की है।

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक के निर्देश पर अमरोहा की डिप्टी सीएमओ (Dy CMO) डा. इंदुबाला शर्मा को निलंबित किया गया है। डा. इंदुबाला शर्मा पर छह महीने तक बिना कार्यालय आए ही वेतन लेने का आरोप है, इसी मामले में उनको निलंबित किया गया है।

फर्जी हस्ताक्षर कर वेतन लेने का गंभीर आरोप

डा. इंदुबाला शर्मा पर बिना कार्यालय आए ही छह महीने तक उपस्थिति रजिस्टर पर फर्जी हस्ताक्षर कर वेतन लेने का गंभीर आरोप है। उनको निलंबित करने के साथ ही अब वेतन भी वापस लेने की कार्रवाई की जाएगी।

केस भी दर्ज करने के निर्देश

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक के निर्देश पर डा. इंदुबाला शर्मा के प्रकरण में तत्कालीन सीएमओ संजय अग्रवाल के साथ लिपिक संतोष कुमार पर गंभीर विभागीय कार्यवाई की जा रही है। इन तीनों के खिलाफ केस भी दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।

अमरोहा के तत्कालीन सीएमओ संजय अग्रवाल के साथ लिपिक संतोष कुमार के खिलाफ बिना कार्यालय आए ही डा. इंदुबाला शर्मा को वेतन जारी करने के मामले में रिकवरी का भी आदेश दिया गया है। 

इससे पहले सुबह उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रामा सेंटर में जाकर लखीमपुर खीरी में बुधवार को सड़क दुर्घटना में घायलों का हालचाल लिया। उनके साथ कुलपति डा. बिपिन पुरी के साथ अन्य अफसरों के साथ मौके पर पहुंचे। घायलों की हालत देखने के बाद ब्रजेश पाठक भावुक भी हो गए। डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने वहां पर मौजूद डाक्टर से सभी घायलों को समुचित इलाज मुहैया कराने के निर्देश दिए। लखीमपुर खीरी से बुधवार को 14 घायलों को लखनऊ भेजा गया था।

Edited By: Dharmendra Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट