लखनऊ, जेएनएन। घटिया पनीर बेचने पर दुर्गमां रेस्टोरेंट पर पांच लाख का जुर्माना लगने के बाद एडीएम पूर्वी वैभव मिश्र की कोर्ट ने इस बार खराब दही मिलने पर अलीगंज के कारोबारी पर तगड़ा जुर्माना लगाया है। कोर्ट ने लैब रिपोर्ट आने के बाद पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

एडीएम पूर्वी वैभव मिश्र के मुताबिक, न्यू राज डेयरी अलीगंज में निरीक्षण के बाद दही के नमूने लिए गए थे। जांच रिपोर्ट में दही अधोमानक की श्रेणी में पाया गया। सुनवाई के दौरान आरोपी पक्ष ने रेफरल जांच कराने से इन्‍कार किया। एडीएम पूर्वी की अदालत ने अधोमानक पर अधिकतम जुर्माना लगाते हुए राशि तीस दिनों के भीतर जमा करने का आदेश दिया। 

दही में मानकों से कम फैट

नमूने की जांच में पाया गया कि दही में तय मात्रा से कम फैट है। दरअसल, दही जमाने से पहले ही दूध से सारा फैट निकाल लिया जाता है। दही में निर्धारित मानक का मात्र 40 प्रतिशत फैट पाया गया।

दुग्ध उत्पादों में सबसे अधिक शिकायतें

गर्मियों में दूध की एक तरफ खपत बढ़ती है दूसरी तरफ उत्पादन घटता है। ऐसे में डिमांड को पूरा करने के लिए कारोबारी मिलावट खोरी से बाज नहीं आ रहे हैं। दूध में पानी से लेकर यूरिया और तमाम ऐसे पदार्थ मिलाते हैं जो सेहत के लिए बेहद हानिकारक हैं। 

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस