लखनऊ(जागरण संवाददाता)। पिछले नौ माह से सत्तर फीसद खाली चल रही मेट्रो आने वाले चंद महीनों के बाद फुल होकर चलेगी। 23 किमी. रूट पर छह मेट्रो स्टेशन होंगे, जो यात्रियों की संख्या में इजाफा करेंगे। इसके लिए लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने अभी से तैयारिया तेज कर दी हैं। यात्रियों की भीड़ देखते हुए काउंटरों की संख्या बढ़ेगी। वहीं सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी स्टेशनों पर होंगे। दावा किया जा रहा है कि दिसंबर 2019 तक डेढ़ लाख से अधिक यात्री मेट्रो में प्रतिदिन सफर करेंगे।

सुबह छह बजे से रात 10 बजे तक चलने वाली मेट्रो के लिए 23 मेट्रो स्टेशनों में छह मेट्रो स्टेशन ऐसे होंगे, जहा सबसे अधिक यात्री मेट्रो में सवार होंगे। लखनऊ मेट्रो दिसंबर 2019 तक नार्थ साउथ कॉरिडोर रूट पर यात्रियों की संख्या को देखते हुए मेट्रो की संख्या अठारह से बीस कर सकता है। वर्तमान में 8.5 किमी रूट पर पाच मेट्रो संचालित हो रही हैं। प्रतिदिन यात्रियों का ग्राफ आठ हजार है। एलएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव कहते हैं कि मेट्रो के लिए सभी स्टेशन महत्वपूर्ण हैं, लेकिन कुछ स्टेशन ऐसे चिन्हित किए गए हैं, जहा यात्री मेट्रो में अधिक संख्या में सफर करेंगे। कह सकते हैं कि यात्रियों की संख्या बढ़ाने का हब होंगे, उनमें चौधरी चरण सिंह मेट्रो एयरपोर्ट, आलमबाग बस अड्डा मेट्रो स्टेशन, चारबाग मेट्रो स्टेशन, सचिवालय, हजरतगंज और विश्वविद्यालय होंगे। भविष्य में बादशाह नगर मेट्रो स्टेशन भी होगा।

बढ़ाने पड़ेंगे मेट्रो के फेरे:

एलएमआरसी को चौधरी चरण सिंह से मुंशी पुलिया के बीच मेट्रो के फेरे बढ़ाने होंगे। अफसरों का दावा है कि दिसंबर 2019 तक हर छह मिनट में मेट्रो यात्रियों को मुहैया करना होगी। तभी यात्रियों की भीड़ स्टेशन से खत्म हो सकेगी।

अभी 14 घटे में रोजाना लगती हैं 240 टिप:

लखनऊ मेट्रो के अधिकारी कहते हैं कि वर्तमान में 8.5 किमी. रूट पर 240 टिप मेट्रो 14 घटे में लगाती है। यानी 120 टिप ट्रासपोर्ट नगर और 120 टिप चारबाग मेट्रो स्टेशन से लगती है। दो ट्रेनों के बीच में अंतर आठ मिनट का होता है। अप्रैल 2019 से दो ट्रेनों का अंतर छह मिनट हो जाएगा। यही नहीं ट्रेनों की संख्या बढ़ते पीक टाइम में फेरे बढ़ाए जाएगे। औसतन तीन सौ टिप दिसंबर 2019 तक लखनऊ मेट्रो को लगाने होंगे। 17 ट्रेनें आ चुकी हैं, नवंबर तक आ जाएंगी 20 और मेट्रो

लखनऊ मेट्रो के नार्थ साउथ कॉरिडोर में चलने वाली मेट्रो की बीसों ट्रेन नवंबर तक आ जाएंगी। 11 जून तक सत्रह मेट्रो ट्रेनें लखनऊ आ चुकी है। अफसरों का दावा है कि हर माह एक-एक मेट्रो आ जाएगी। नवंबर से पहले सभी मेट्रो का ट्रायल करके तैयार भी कर लिया जाएगा। दो से तीन मेट्रो रिजर्व रहेंगी, बाकी का संचालन होगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस