लखनऊ, जेएनएन। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण को दोनों दौर में बचाव के कारण बड़े कहर से बचने वाले उत्तर प्रदेश ने कोरोना वैक्सीनेशन में भी बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है। कोरोना वायरस के वैक्सीनेशन के मामले में उत्तर प्रदेश ने देश में इतनी बड़ी लकीर खींच दी है कि अन्य राज्य को इसके करीब आने में अभी काफी समय लगेगा।

उत्तर प्रदेश शनिवार को कोरोना वायरस से बचाव की वैक्सीन की दस करोड़ डोज का लक्ष्य हासिल करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर घातक कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव के लिए ट्रैक, टेस्ट व ट्रीट फार्मूला के साथ ही साथ टीकाकरण का अभियान भी गति पर है। उत्तर प्रदेश ने देश के अन्य राज्यों को मीलों पीछे छोड़ते हुए शनिवार को टीकाकरण के दस करोड़ के लक्ष्य को प्राप्त कर लिया।

देश की सर्वाधिक आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश अब वैक्सीन की सर्वाधिक डोज देने वाला राज्य भी बन गया है। दस करोड़ में से अब तक इसमें से आठ करोड़ 15 लाख लोगों ने टीके की पहली डोज ले ली है, जबकि एक करोड़ 85 लाख से अधिक लोगों को दोनों डोज लग चुकी है। प्रदेश में अब प्रत्येक शनिवार को टीके की दूसरी डोज लगवाने वालों को प्राथमिकता दी जा रही है। प्रदेश में अभी तक 55 फीसदी आबादी को पहली डोज का लाभ मिला है। प्रदेश में बीते 54 दिनों में पांच करोड़ से ज्यादा टीके की खुराक दी गई है।

खास मौका स्वास्थ्यकर्मियों व जनता को समर्पित : सीएम योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कोरोना टीकाकरण कर दस करोड़ का आंकड़ा पार होने के इस खास मौके को स्वास्थ्यकर्मियों और आमजनता को समर्पित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन व उत्तर प्रदेश के अथक प्रयासों का सुफल है कि प्रदेश में दस करोड़ से अधिक कोविड टीके का सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। यह उपलब्धि प्रतिबद्ध स्वास्थ्यकर्मियों व अनुशासित नागरिकों को समर्पित है। आप भी लगवाएं 'टीका जीत का'।

54 दिनों में पांच करोड़ को दी गई डोज

प्रदेश में तेज टीकाकरण की नीति के क्रियान्वयन को इस तथ्य से समझा जा सकता है कि तीन अगस्त को पांच करोड़ डोज पूरा करने के बाद अगले 54 दिनों में पांच करोड़ और वैक्सीन डोज दी गई। सूबे में टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत में पहले एक करोड़ टीके लगाने में करीब सौ दिन लगे थे।

पहले पायदान पर उत्तर प्रदेश, दूसरे पर महाराष्ट्र

टीकाकरण की देशव्यापी स्थिति को देखें तो उत्तर प्रदेश पहले पायदान पर बना हुआ है। दूसरे स्थान पर वह महाराष्ट्र है, जहां पर टीका का उत्पादन हो रहा है। महाराष्ट्र के सात करोड़ 78 लाख लोगों को टीके की डोज मिली है। तीसरे पर मध्य प्रदेश, चौथे पर गुजरात व पांचवें स्थान पर पश्चिम बंगाल है। उत्तर प्रदेश में वैक्सीनेशन की ताजा स्थिति के अनुसार 18 वर्ष से अधिक उम्र के 15 करोड़ 04 लाख लोगों को टीका लगाया जाना है।

ऐसे बनता गया रिकॉर्ड

  • 02 करोड़- 06 जून
  • 03 करोड़- 26 जून
  • 04 करोड़ - 17 जुलाई
  • 05 करोड़- 03 अगस्त
  • 06 करोड़- 17 अगस्त
  • 07 करोड़- 29 अगस्त
  • 08 करोड़- 07 सितंबर
  • 09 करोड़- 15 सितंबर
  • 10 करोड़- 25 सितंबर।

ऐसे बनता गया रिकॉर्ड

        राज्य--- --        टीकाकरण

  1. उत्तर प्रदेश -     10 करोड़
  2. महाराष्ट्र -          07.78 करोड़
  3. मध्य प्रदेश -      06.05 करोड़
  4. गुजरात -          05.92 करोड़
  5. पश्चिम बंगाल -   05.52 करोड़।

Edited By: Dharmendra Pandey