लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। कोरोना आपदा में गरीबों और जरूरतमंदों को निश्शुल्क खाद्यान्न मुहैया कराने के लिए पिछले वर्ष केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत गुरुवार को उत्तर प्रदेश में 80 लाख लोगों को मुफ्त अनाज देकर कीर्तिमान रचा जाएगा। अन्न महोत्सव के तौर पर मनाये जा रहे इस कार्यक्रम का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आनलाइन शुभारंभ करेंगे। वह प्रदेश के पांच जिलों के एक-एक लाभार्थियों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये संवाद भी करेंगे। इन जिलों में वाराणसी, झांसी, सुलतानपुर, कुशीनगर और सहारनपुर शामिल हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस अवसर पर अयोध्या में वासुदेव घाट स्थित राशन की दुकान पर जरूरतमंदों को राशन वितरित करेंगे और कार्यक्रम से वर्चुअल रूप से जुड़ेंगे। राज्य सरकार ने कार्यक्रम के लिए व्यापक तैयारियां की हैं।

उत्तर प्रदेश में राशन की 79,612 दुकानें हैं। प्रत्येक दुकान पर गुरुवार को कम से कम 100 लोगों को मुफ्त राशन वितरित किया जाएगा। इस खास मौके के लिए राशन दुकानों को फूलों और झंडियों से सजाया गया है। प्रत्येक दुकान पर 100 लाभार्थियों के अलावा कोई न कोई जनप्रतिनिधि या मंत्री अतिथि के तौर पर मौजूद रहेगा। प्रधानमंत्री के उद्बोधन के सजीव प्रसारण के लिए प्रत्येक राशन की दुकान पर टेलीविजन सेट लगाये गए हैं। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए लोगों को राशन वितरित किया जाएगा।

थैले में मिलेगा राशन : प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत सभी अंत्योदय और पात्र गृहस्थी राशन कार्डधारकों प्रति यूनिट पांच किलो मुफ्त राशन दिया जाता है। अन्न महोत्सव पर लोगों को थैले में भरकर अनाज दिया जाएगा। थैले पर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की फोटो भी होगी। राशन वितरण के लिए सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की ओर से जिलों में थैले भेजे जा चुके हैं।

वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी संभालेंगे कमान : अन्न महोत्सव की तैयारियों को अंजाम तक पहुंचाने और कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए शासन ने नोडल अधिकारियों को उन्हें आवंटित जिलों में भेजा है। जिलाधिकारियों ने प्रत्येक राशन की दुकानों के लिए एक नोडल अफसर नामित किया है जो मौके पर राशन वितरण की निगरानी करेंगे। व्यवस्था की देखरेख के लिए तहसील स्तर पर सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किये गए है।

वन नेशन, वन राशन कार्ड का मिल रहा लाभ : केंद्र सरकार की 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' योजना के तहत प्रदेश के 43,572 कार्डधारकों ने दूसरे राज्यों और दूसरे प्रदेशों के 6616 कार्डधारकों ने प्रदेश में राशन लिया है। प्रदेश में 8137 से अधिक असहाय लोगों को उनके घर पर ही राशन पहुंचाया गया है।

उप्र के 15 करोड़ लोगों को मिला योजना का लाभ : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ट्वीट करके जानकारी दी है कि वह गुरुवार को दोपहर एक बजे प्रदेश में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के लाभार्थियों से संवाद करेंगे। इस योजना के सौजन्य से प्रदेश के 15 करोड़ लोगों को लाभ मिला है।

Edited By: Umesh Tiwari