लखनऊ, जेएनएन। Corona Vaccination in Lucknow: राजधानी लखनऊ में कोल्ड चेन प्वाइंट से सुबह आठ बजे वैक्सीन वाहन रवाना किए गए। पुलिस सुरक्षा में वैक्सीन पौने नौ बजे सभी राजधानी के अस्पतालों तक पहुंची। इसके बाद वैक्सीन साइट पर तैनात हेल्थ वर्कर ने अपनी तैयारियों को परखा। सुबह दस बजे से टीकाकरण शुरू किया। इस बार कोविशील्ड के साथ-साथ कोवैक्सीन भी हेल्थ वर्कर को लगाई जा रही है। 

मुख्‍यमंत्री आरएमएल तो सुरेश खन्‍ना पहुंचे पीजीआइ :वहीं, यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल पहुंचे। यहां उन्‍होंने वैक्‍सीनेशन का जायजा लिया।

उधर, कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना, अपर मुख्य सचिव डॉ. रजनीश दुबे के साथ जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने पीजीआइ में कोविड वैक्सीनेशन का निरीक्षण किया। साफ सफाई समेत मरीजों को समुचित चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने के निर्देश भी दिए गए। जिलाधिकारी ने वैक्सीन के लिए आये हुए व्यक्तियों को पूरी सहायता किए जाने के भी निर्देश दिए। 

उधर, वीरांगना अवंतीबाई (डफरिन अस्पताल) में सुबह 8:15 बजे वैक्सीन की कोल्ड चेन पहुंची। सबसे पहले सीएमएस सीमा श्रीवास्तव को वैक्सीन लगी। इसके बाद वार्ड ब्वाय पंकज को लगी। डॉ. सलमान व्यवस्था में लगे हैं।

वहीं, बलरामपुर अस्‍पताल में वैक्सीनेशन कार्यक्रम शुरू हुआ। एसएम त्रिपाठी ने पहली वैक्सीन लगवाई। अस्‍पताल में टीकाकरण के लिए तीन काउंटर खोले गए हैं। आज 300 लोगों को बलरामपुर में वैक्सिंग लगाई जाएगी।

बलरामपुर के निदेशक डॉ राजीव लोचन की मौजूदगी में तीनों फ्लोर पर दर्जन भर से अधिक अस्पताल कर्मियों को वैक्सीन लेगगी। डॉ राजीव लोचन ऑब्जरवेशन रूम का जायजा लेते रहे। बीकेटी के राम सागर मिश्र सौ शैय्या संयुक्त चिकित्सालय में पहला टीका फिजीशियन डॉ. गिरीश पांडे को लगा।

वैक्सीनेशन के बाद ऑब्जर्वेशन रूम में वेट: लोक बंधु अस्पताल में वैक्सीनेशन के बाद ऑब्जरवेशन रूम में स्वास्थ्यकर्मिंयों को बैठाया गया। वहीं, ऐशबाग सीएचसी में वैक्सीनेशन किया गया। सबसे पहले एमएस डॉ. गीतांजलि ने वैक्सीन लगवाई। सीएमएस डॉ. मंजू चौरसिया ने बताया कि आज 100 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए दो काउंटर रूम बनाए गए हैं। अभी तक दर्जन भर स्टाफ कर्मियों को लगाई जा चुकी है। ऑब्जर्वेशन रूम में सभी को बैठाया गया है।

नगरीय सामुदायिक सवास्थ्य केंद्र आलमबाग में पारा की शोभा ने लगवाया टीका। अभी तक मात्र 38 लोगों का हुआ टीकाकरण, 100 को लगाना है।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इटौंजा में भी टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। पहला टीका आशा बहू कुसुम सिंह के लगाया गया। सीएचसी अधीक्षक एके दीक्षित ने बताया कुल 100 लोगों के वैक्सीन का टीका लगाया जाएगा। जिसमें एएनएम तथा आशा बहू व अन्य मेडिकल स्टाफ शामिल है।

वैक्सीन वाहन को गुब्बारे से सजाकर की गई रवाना:  राजधानी के ऐशबाग में जनपदीय वैक्सीन स्टोरेज सेंटर से गुरुवार को 20 कोल्ड चेन प्वाइंट पर वैक्सीन भेजी गईं। शुक्रवार को पुलिस की कड़ी सुरक्षा में कोल्ड चेन प्वाइंट से 35 अस्पतालों में वैक्सीन रवाना की गईं। इस दौरान शहर के अस्पतालों में वैक्सीन पहुंचने में पांच से 15 मिनट का वक्त लगा। वहीं, ग्रामीण क्षेत्र के अस्पतालों में 30 से 45 मिनट में वैक्सीन पहुंची।

इंदिरा नगर कोल्ड चेन प्वाइंट से वैक्सीन वाहन को गुब्बारे से सजाकर भेजा गया। पौने नौ बजे तक हर अस्पताल में वैक्सीन पहुंच गई। ऐसे में नौ बजे हेल्थ टीम ने सेंटर पर तैयारियों को परखा। 10 बजे से विभिन्न साइटों पर टीकाकरण शुरू हो गया। 

बलरामपुर के सात अस्पतालों में टीकाकरण: पहले चरण का टीकाकरण संपन्न होने के बाद शुक्रवार को दूसरे चरण में 1211 लोगों का टीकाकरण लग रहा है। महाराजा भगवती प्रसाद सिंह ज़िला मेमोरियल अस्पताल के सीएमएस डॉ. एके श्रीवास्तव व डॉ. अजय पांडेय को टीका लगाकर दूसरे चरण की शुरुआत की। इनके बाद आइएमए के सचिव डॉ. अब्दुल कयूम ने टीका लगवाया। सचिव ने कहा कि टीका पूरी तरह सुरक्षित है। अफवाहों पर ध्यान न दें। परिवार व देश की सुरक्षा के लिए टीकाकरण जरूरी है। इस बार टीकाकरण के लिए अस्पताल के साथ सत्र भी बढ़ाए गए हैं। नगर स्थित जिला मेमोरियल अस्पताल, संयुक्त जिला चिकित्सालय, जिला महिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तुलसीपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य गैंसड़ी व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जोकहिया, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र श्रीदत्तगंज में 12 बूथ बनाए गए हैं। सातों जगहों पर एक-एक टीम पहले से तैयार है, जो किसी भी टीकाकरण टीम का विकल्प बनेंगी। सीएमओ डॉ. वीबी सिंह, एसडीएम सदर डॉ. नागेंद्र नाथ यादव व सीओ सदर वरूण मिश्र मेमोरियल चिकित्सालय में मौजूद रहे।

रायबरेली के 12 केंद्रों पर कोरोनारोधी वैक्सीनेशन: शुक्रवार सुबह दस बजे से जनपद के 12 स्वास्थ्य केंद्रों पर हेल्थ वर्करों का टीकाकरण शुरू हो गया। 21 टीमों को 2100 स्वास्थ्य कर्मियों का वैक्सीनेशन करना है। डीह सीएचसी में अधीक्षक डॉ. तारिक इकबाल, डलमऊ में अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह, हरचंदपुर में डॉ. राजन बाबू, जगतपुर में स्टाफ नर्स खुशबू पाल, बेलाभेला में फार्मासिस्ट आरएन प्रभाकर, महराजगंज में अधीक्षक डॉ. राधाकृष्णन ने पहला टीका लगवाया। सुबह एसीएमओ डॉ. वीरेंद्र सिंह ने सीएचसी महराजगंज का निरीक्षण कर वैक्सीनेशन की स्थिति जानी, बेलाभेला में एसडीएम सदर अंशिका दीक्षित पहुंची। सलोन में टीकाकरण के लिए आशा बहुओं को बाहर ठंड में बैठा दिया गया। वहां निरीक्षण करने पहुंची एसडीएम दिव्या ओझा ने स्वास्थ्य टीम को खूब डांटा और सभी को वैक्सीनेशन के लिए बने वेटिंग रूम में बैठाने का निर्देश दिया। टीकाकरण की प्रगति जानने के लिए स्वास्थ विभाग के साथ ही प्रशासनिक अफसर भी सेंटरों पर पहुंच रहे हैं। सीएमओ डॉ. वीरेंद्र सिंह ने बताया कि तय समय पर टीकाकरण शुरू करा दिया गया है। सभी केंद्रों पर टीका लगवाने स्वास्थ्य कर्मी आ रहे हैं। वैक्सीन को लेकर संशय खत्म हो गया है। हेल्थ वर्कर उत्साहित नजर आ रहे हैं। प्रशिक्षित टीम ही टीका लगा रही है और वैक्सीनेशन के बाद आब्जर्वेशन किया जा रहा है।

गोंडा के 12 अस्पतालों में कोरोना का टीकाकरण: जिले में कोविड-19 टीकाकरण शुरू हो गया। 12 अस्तपालों में आयोजित 27 सत्रों में 2700 कर्मियों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। इसके लिए हर अस्पताल में टीमों को लगाया गया है। डीएम मार्कण्डेय शाही ने जिला पुरुष व महिला अस्पताल का निरीक्षण कर व्यवस्था का जायजा लिया है। साथ ही आवश्यक निर्देश दिया है। सीएमओ डॉ. अजय सिंह गौतम ने बताया कि कोविड -19 टीकाकरण शुक्रवार को शाम 5 बजे तक किया जा रहा है। इसमें स्वास्थ्य अधिकारियों और कर्मचारियों को कोविड -19 टीका से प्रतिरक्षित किया जा रहा है। डिप्टी सीएमओ डॉ मनोज कुमार ने बताया कि जिले में 12 केन्द्रों पर 27 सत्र आयोजित किए जा रहे हैं। इसके अलावा आगामी 28 जनवरी को इन्हीं 12 जगहों पर 27 सत्र व 29 जनवरी को 22 सत्र लगाकर कुल 7,554 लोगों को प्रतिरक्षित किये जाने की योजना बनायी गयी है। 16 जनवरी को जिन लोगों को प्रतिरक्षित किया गया है, उनका अगला डोज 15 फरवरी निर्धारित है। 

अयोध्या के 11 सेंटरों पर चल रहा कोरोना टीकाकरण: 2200 लोगों को लगाये जाएंगे कोरोना के टीके। सभी सेंटर पर दो-दो स्टेशन बनाए गए हैं। जिला पुरुष अस्पताल, जिला महिला अस्पताल, मेडिकल कॉलेज, सीएचसी मया, रुदौली, सोहावल, मसौधा, मिल्कीपुर, पूरा बाजार व बीकापुर में टीकाकरण का कार्य चल रहा है।

बाराबंकी के 10 अस्पतालों में दिन भर में 30 सेशन में लगाए जाएंगे कोरोना के टीके: पहले फेज का दूसरा टीकाकरण शुकवार को जिले के दस अस्पतालों में शुरू हो गया। तीस सेशन में करीब तीन हजार लोगों को टीका लगाया जाएगा। जिले में वैक्सीन की डोज 17970 है। इसमें से 295 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जा चुका है। अब आठ हजार लोगों को लगाने के लिए वैक्सीन बची है। जिसमें 7800 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जाएगा। जिसमें से तीन हजार लोगों को आज टीका लगाया जाएगा। इसके बाद 28 व 29 जनवरी को भी टीका लगाया जाएगा। इन अस्पतालों में लग रहा टीका: सीएमओ ने बताया कि जिला चिकित्सालय व जिला महिला अस्पताल में टीका लगाया जा रहा है। इसके अलावा हिंद अस्पताल, मेयो, सतरिख सीएचसी, रामसनेहीघाट सीएचसी, हैदरगढ सीएचसी, त्रिवेदीगंज सीएचसी, जाटा बरौली सीएचसी, सिद्धौर सीएचसी पर टीका लग रहा है। शाम पांच बजे तक लगाया जाएगा। दूसरे चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को ही टीकाकरण में शामिल किया गया है। जिन लोगों का टीकाकरण कराया जाना है उनका पंजीकरण कराने के लिए स्वास्थ्य कर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश पहले दे दिए गए थे। डीएम डॉक्टर आदर्श सिंह सीएमओ डॉ बीकेएस चौहान सहित चिकित्सा अधिकारियों ने अस्पतालों का निरीक्षण किया।

इन कोल्ड चेन प्वाइंट पर वैक्सीन पहुंची : लखनऊ में 16 जनवरी को टीकाकरण दिवस में नौ कोल्ड चेन प्वाइंट से वैक्सीन भेजी गई। वहीं 22 जनवरी से शुरू हुए तीन दिवसीय टीकाकरण दिवस के लिए 20 कोल्ड चेन प्वाइंट एक्टिव किए गए। इसमें सरोजनी नगर, अलीगंज, चिनहट, मलिहाबाद, माल, मोहनलालगंज, छितवारपुर, बीकेटी, गोसाईगंज, गुडंबा, काकोरी, सेवा सदन, ऐशबाग, आलमबाग, इंदिरा नगर, सिल्वर जुबली, टुडि़यागंज, इटौंजा, नगराम, एनके रोड सीएचसी पर पर बने कोल्ड चेन प्वाइंट से वैक्सीन अस्पतालों में भेजी गई।

लखनऊ में आज यहां होगा टीकाकरण : केजीएमयू, पीजीइ, लोहिया संस्थान,बलरामपुर अस्पताल, वीरांगना अवंतीबाई अस्पताल में दोबारा टीकाकरण का सत्र लगा। वहीं, जनपद के बीआरडी, लोकबंधु अस्पताल, सिविल अस्पताल, झलकारी बाई अस्पताल, आरएलबी अस्पताल, आरएसएम साढ़ामऊ में पहली बार वैक्सीनेशन शुरू हुआ। चिनहट माल, मोहनलालगंज के अलावा सरोजनी नगर, अलीगंज, मलिहाबाद, छितवारपुर, बीकेटी, गोसाईगंज, गुडंबा, काकोरी, सेवा सदन, ऐशबाग, आलमबाग, इंदिरा नगर, सिल्वर जुबली, टुडि़यागंज, इटौंजा, नगराम, एनके रोड सीएचसी पर पहली बार टीकाकरण हो रहा है। वहीं, चिनहट के महात्मागांधी अस्पताल में भी टीकाकरण सत्र लगाया गया। निजी अस्पताल में एरा, सहारा व मेदांता व टीएसमिश्रा मेडिकल कॉलेज में वैक्सीन लगी। 

पोर्टल सिस्टम अपडेट का दावा: टीकाकरण की नई तिथि तय होते ही पोर्टल सिस्टम भी अपडेट किया गया है। इसमें कौन सी वैक्सीन लगी। इसका भी मैसेज लाभार्थियों को जाएगा। वहीं, पंजीकृत लाभार्थियों में गर्भवती व प्रसूता का नाम भी हटाया जा रहा है। वैक्सीन संबंधी किसी भी समस्या या जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर जारी किया गया है। टोल फ्री नंबर 18001805145 पर संपर्क कर सकते हैं। कोविड कंट्रोल रूम पर भी वैक्सीनेशन से जुड़ी सहायता मिलेगी। इसके लिए इस नंबर 0522-4523000 पर संपर्क करें। शहर के कोविड कंट्रोल रूम से भी 15 दिन में तीन बार लाभार्थियों से फीड बैक लिया जाएगा।

 वैक्सीनेशन की नई गाइड लाइन

  • वैक्सीन की दूसरी डोज भी उसी वैक्सीन ब्रांड की होनी चाहिए, जिसकी लाभार्थी को पहली डोज लगी हो
  • वैक्सीन 18 वर्ष से कम आयु वर्ग को

नहीं दी जाएगी

  • पिछली डोज में लाभार्थी को यदि एनॉफिलेक्सिस या एलर्जिक रिएक्शन हुआ है तो उसे वैक्सीन नहीं दी जाएगी
  • ऐसे लाभार्थी, जिन्हें कभी किसी इंजेक्टबल थेरेपी, दवा उत्पाद, खाद्य पदार्थ से एलर्जी है उन्हें वैक्सीन नहीं दी जाएगी
  • गर्भवती व स्तनपान कराने वाली महिलाओं को वैक्सीन नहीं लगाई जाएगी

इनका वैक्सीनेशन चार से आठ सप्ताह रहेगा स्थगित

  • कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के निगेटिव होने के तुरंत बाद वैक्सीन नहीं दी जाएगी
  • ऐसे लाभार्थी, जिन्हें मोनोक्लोनल एंटीबॉडी या प्लाज्मा दिया गया हो
  • ऐसे लाभार्थी जो किसी गंभीर बीमारी के कारण अस्वस्थ हैं और अस्पताल में भर्ती है। 

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप