लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में काफी तेजी से पांव पसार रही वैश्विक महाकारी कोरोना वायरस के संक्रमण से स्थिति बिगड़ती चली जा रही है। प्रदेश में बीते 24 घंटा में अब सर्वाधिक 2083 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं, जबकि 932 लोगों को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दे दी गई है। इससे पहले बीते बुधवार को 1685 कोरोना संक्रमित मिले थे। अब कुल मरीजों का आंकड़ा 43,492 पहुंच गया है, जबकि 15,720 एक्टिव केस हैं। बीते 24 घंटे में 34 और लोगों की मौत हुई। अब तक कुल 1046 मरीज इस खतरनाक वायरस की चपेट में आकर दम तोड़ चुके हैं। वहीं अब तक 26,675 रोगी स्वस्थ भी हो चुके हैं। गुरुवार को लखनऊ में 308 नए रोगी मिले हैं। गुरुवार को प्रदेश भर में सर्वाधिक 48,046 लोगों की कोरोना जांच की गई। अभी तक कुल 13,25,327 लोगों का कोरोना टेस्ट किया जा चुका है।

उत्तर प्रदेश में मार्च से लेकर 25 जून तक यानी चार महीने में 20,325 रोगी सामने आए थे। जुलाई में हर दिन ज्यादा मरीजों के मिलने के बन रहे रिकार्ड के चलते सिर्फ 16 दिनों में 20,260 मरीज सामने आए हैं। बीते 24 घंटे में जिन 34 लोगों की मौत हुई, उनमें कानपुर के नौ, लखनऊ, संभल व प्रयागराज के तीन-तीन, नोएडा, वाराणसी, जौनपुर और बलिया में दो-दो इसके अलावा आगरा, गाजियाबाद, फिरोजाबाद, मुरादाबाद, बुलंदशहर, आजमगढ़, गोरखपुर, अमरोहा, इटावा, फतेहपुर और मिर्जापुर का एक-एक रोगी शामिल है। 

लखनऊ में मुख्यमंत्री कार्यालय लोकभवन में भी कोरोना संक्रमण फैल गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोकभवन में पंचम तल पर बैठते हैं। इसी परिसर में स्थित सी ब्लॉक में सचिवालय के विभिन्न कार्यालयों के साथ ही भूतल पर सीएम सोशल मीडिया सेल है। इसके साथ एक प्रशिक्षु आइएएस अफसर भी इसकी चपेट में हैं। राजधानी में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। 

KGMU के 3959 सैंपल में 300 पॉजिटिव

किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में बुधवार को 3959 सैंपल की जांच की गई थी, जिसमें 300 लोग पॉजिटिव हैं। इनमें लखनऊ के 168, हरदोई के 55, मुरादाबाद के 52, बाराबंकी के 14, कन्नौज के छह तथा संभल, बलिया, सीतापुर, गोरखपुर व शाहजहांपुर के एक-एक संक्रमित हैं। 

प्रयागराज में चार और कोरोना पाजिटिव मरीजों की मौत

प्रयागराज में बीते 24 घंटा में कोरोना संक्रमित चार और लोगों की मौत हो गई। उन्होंने स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में दम तोड़ा। एक मृतक जौनपुर का रहने वाला था। जिले में मृतकों का आंकड़ा 25 हो गया है। बुधवार को 52 नए पाजिटिव केस भी सामने आए। इस दिन 1037 सैंपल की जांच हुई। मौजूदा समय में जिले में 255 एक्टिव केस हैं जबकि इलाज के बाद कुल 440 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

मुरादाबाद में तीन की मौत, तीन जिलों में 85 संक्रमित मिले

मुरादाबाद में कोरोना संक्रमण से मुरादाबाद में तीन लोगों की मौत हो गई। मुरादाबाद, अमरोहा और रामपुर में 85 कोरोना संक्रमित मिले हैं। मुरादाबाद में 52 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। रामपुर में कोरोना के 11 नए मरीज सामने आए हैं। रामपुर में रहने वाले बरेली सीएमओ कार्यालय में तैनात कर्मचारी की रिपोर्ट भी पॉजीटिव आई है। 166 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव है। अमरोहा में 199 लोगों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इसमें से 22 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

मेरठ में भाजपा विधायक समेत 126 पॉजिटिव, एक की मौत

मेरठ व आसपास के जिलों में कोरोना का कहर बुधवार को भी जारी रहा। मेरठ में 44 पॉजिटिव केस मिले। किठौर के भाजपा विधायक सत्यवीर त्यागी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि यह चेन लंबी हो सकती है क्योंकि विधायक लोगों से मिलते रहे हैं। दो दिन पूर्व सॢकट हाउस में बैठक में भी मौजूद थे। यहां कुछ विधायक व अधिकारी भी थे। यहां संक्रमितों की संख्या 1643 हो गई है। बुलंदशहर में एक और कोरोना संक्रमित की मौत हो गई। यहां मृतक संख्या 25 हो गई है। 24 पॉजिटिव मिलने से संख्या 974 हो गई है। मुजफ्फरनगर में 25 संक्रमित मिलने से संख्या 483 हो गई है। सहारनपुर में 18 और संक्रमित मिलने से संख्या 573 तक पहुंच गई है। शामली में आठ नए केस मिलने से संख्या 209 हो गई है। बागपत में सात केस मिलने से संख्या 483 हो गई है।

कोरोना से डॉक्टर की मौत, चिकित्सकों में शोक की लहर

कोरोना वायरस से पीड़ित वीरांगना आवंतीबाई महिला अस्पताल (डफरिन) में डॉ. अजीजुद्​दीन बाल रोग विशेषज्ञ थे। वह करीब पांच वर्ष से संविदा पर कार्यरत थे। बुधवार शाम को उनकी मौत हो गई। 23 जून को उनमें कोरोना की पुष्टि हुई। इसके बाद उन्हें लोकबंधु अस्पताल में शिफ्ट किया गया। हालत गंभीर होने पर केजीएमयू में भर्ती कराया गया। सप्ताह भर पहले उन्हें पीजीआइ ले जाया गया। यहां बुधवार को उनका निधन हो गया। पीजीआइ निदेशक डॉ. आरके धीमान ने चिकित्सक की मौत की पुष्टि की। एसजीपीजीआई के निदेशक प्रोफेसर आरके धीमान ने बताया कि डॉक्टर के फेफड़े में गंभीर संक्रमण हो गया था। वह कई तरह की अन्य समस्या से भी जूझ रहे थे। उन्हें कई बार ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया। तमाम प्रयास के बाद भी उन्हें बचाया नहीं जा सका। वह करीब 20 दिन से एसजीपीजीआई में भर्ती थे। उनकी मौत की सूचना मिलते ही चिकित्सकों में शोक की लहर दौड़ पड़ी। 

सीएम कार्यालय लोकभवन में भी संक्रमण

लखनऊ में तेजी से चौतरफा पैर पसार रहे कोरोना संक्रमण ने अब मुख्यमंत्री कार्यालय के परिसर में भी दस्तक दे दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोकभवन में पंचम तल पर बैठते हैं। इसी परिसर में स्थित सी ब्लॉक में सचिवालय के विभिन्न कार्यालयों के साथ ही भूतल पर सीएम सोशल मीडिया सेल है। वीवीआइपी व्यवस्था वाले लोकभवन में बैठने वाले सीएम सोशल मीडिया सेल के दो कर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इससे पहले भी कुछ मंत्री भी इसकी चपेट में आ चुके हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोकभवन में पंचम तल पर बैठते हैं। इसी परिसर में स्थित सी ब्लॉक में सचिवालय के विभिन्न कार्यालयों के साथ ही भूतल पर सीएम सोशल मीडिया सेल है। इसमें निजी एजेंसी के आउटसोर्सिंग के तहत भर्ती कर्मचारी काम करते हैं। सेल से जुड़े सूत्रों ने बताया कि परिसर के विभिन्न कार्यालयों में नियमित कोरोना की जांच चल रही है। सेल के कर्मियों की भी जांच हुई। इसमें एक वीडियो एडिटर और कंटेंट टीम के एक सदस्य की रिपोर्ट बुधवार को पॉजिटिव आई है। बताया यह जा रहा है कि एजेंसी ने सभी कर्मियों को वर्क फ्रॉम होम पर भेज दिया है। जरूरी काम के लिए बमुश्किल 33 फीसद कर्मी बुलाए जाते हैं। सचिवालय में इससे पहले कुछ मंत्री भी संक्रमित हो चुके हैं, जिनका इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि सचिवालय की लिफ्ट, कार्यालय आदि में शारीरिक दूरी के नियम का पालन कई कर्मी नहीं कर रहे हैं।

सूचना निदेशक शिशिर ने बताया कि सीएम सोशल मीडिया सेल के दो कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उनमें कोई लक्षण नहीं था। अब सेल के सभी कर्मियों को घर से काम करने के लिए कहा गया है। साथ ही कार्यालय को सैनिटाइज करा दिया गया है।

प्रशिक्षु आइएएस कोरोना संक्रमित मिली, खलबली

लखनऊ में उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन अकादमी (उपाम), अलीगंज में ट्रेनिंग पर आईं प्रशिक्षु आइएएस अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। 2019 बैच की आइएएस अधिकारी इस समय मुजफ्फरनगर में तैनात हैं। इनके साथ इस बैच के 18 अन्य आइएएस अधिकारी भी ट्रेनिंग पर आए थे। फिलहाल इन सभी आइएएस अधिकारियों को क्वारंटाइन किया जा रहा है। संक्रमित प्रशिक्षु आइएएस के संपर्क में आए सभी आइएएस अधिकारियों की कोरोना जांच की जाएगी।  

बसों की सजावट में जुटे छह रोडवेज कर्मचारी कोरोना संक्रमित

लखनऊ में अवध बस अड्डे,कमता से गुरुवार को जिन बसों को मुख्यमंत्री अपने आवास से हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे, उनकी सजावट में जुटे रीजनल वर्कशॉप के छह कर्मचारियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से बुधवार देर शाम अफरातफरी मच गई इन कर्मियों को अस्पताल भिजवाकर वर्कशॉप में काम रोक दिया गया। इसी क्रम में बसों को अवध बस स्टेशन पर सजावट के लिए भेजा गया। जहां बसों की धुलाई कर सैनिटाइजेशन के बाद गुरुवार को उन्हेें रवाना किया जाएगा। गोमती नगर स्थित रोडवेज की क्षेत्रीय कार्यशाला में बुधवार शाम बसों की सजावट का काम चल रहा था। इसी बीच जांच कराने वाले कॢमयों की रिपोर्ट आ गई। तीन ऑफिस कर्मचारी और तीन मैकेनिक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।एंबुलेंस से तीन कॢमयों को अस्पताल भेजकर शेष तीन को क्वरंटाइन कर दिया गया। दरअसल, क्षेत्रीय कार्यशाला के एक दर्जन से ज्यादा कर्मचारियों ने 14 जुलाई को कोरोना की जांच कराई थी। क्षेत्रीय कार्यशाला के सेवा प्रबंधक सत्यनारायण ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव कमिर्यों को क्वारंटाइन कराने के बाद क्षेत्रीय कार्यशाला में काम रोककर अवध बस स्टेशन स्थानांतरित कर दिया गया है। इससे मुख्यमंत्री के उद्घाटन कार्यक्रम में किसी तरह की कोई बाधा नहीं आएगी। 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस