लखनऊ, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पांच जुलाई को लखनऊ में वन महोत्सव सप्ताह के तहत 25 करोड़ पौधारोपण अभियान का आगाज करेंगे। मुख्यमंत्री रविवार को कुकरैल में पौधा रोप कर इस वृहद अभियान को शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इससे पहले मेरठ के हस्तिनापुर से इस अभियान का शुभारंभ करना था। इसी बीच शनिवार दोपहर उनका हस्तिनापुर जाने का कार्यक्रम निरस्त हो गया।

उत्तर प्रदेश में रविवार को 25 करोड़ पौधे रोपे जाएंगे। इस पौधारोपण महाभियान का शुभारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ के कुकरैल से करेंगे, जबकि उसी दिन प्रदेश के सात लाख से अधिक स्थलों पर बाकी पौधे लगाए जाएंगे। प्रदेश सरकार ने पौधारोपण के इस महाभियान में 27 राजकीय विभागों को लगाया है। जिलों में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी महाभियान की निगरानी करेंगे। मंत्री व विधायक अपने क्षेत्रों में पौधा रोपकर इस महाभियान का हिस्सा बनेंगे।

प्रदेश सरकार ने पिछले वर्ष 22.59 करोड़ पौधे लगाए गए थे, जबकि इस बार 25 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य है। वन विभाग ने अपनी 1760 नर्सरियों से 25 करोड़ से अधिक औषधीय, फलदार, पर्यावरणीय, छायादार, चारा प्रजाति व इमारती लकड़ी वाले पौधे मुफ्त दिए हैं। वन विभाग 10 हजार से अधिक स्थलों पर करीब 10 करोड़ पौधे रोपेगा, जबकि 26 विभाग सात लाख स्थलों पर 15 करोड़ से अधिक पौधारोपण कराएंगे। इस महाभियान की खास बात यह है कि इसमें कुपोषण निवारण, जैव विविधता संरक्षण, जीवामृत का उपयोग तथा गंगा व सहायक नदियों के किनारे पौधारोपण को केंद्रित किया गया है।

रविवार को होने वाले इस आयोजन में वन मंत्री दारा सिंह चौहान लखनऊ में मुख्यमंत्री के साथ पौधा रोपेंगे। महाभियान के दौरान पौधारोपण के सभी स्थलों की जियो टैगिंग भी की जाएगी। पौधारोपण मिशन 2020 के तहत महिलाओं व बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए प्रत्येक गांव के आवास परिसर में सहजन का एक पौधा लगाया जाएगा। इसके अलावा 25 से अधिक फलदार पौधे भी लगाए जाएंगे। रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करने वाले 36 प्रजातियों के पौधे भी इस महाभियान में रोपे जाएंगे। महाभियान के तहत कुल 201 से अधिक प्रजातियों के पौधे लगाए जाएंगे।

प्रत्येक जिले में बनेंगी विशिष्ट वाटिकाएं : प्रधान मुख्य वन संरक्षण एवं विभागाध्यक्ष राजीव कुमार गर्ग ने बताया कि पौधारोपण महाभियान के दौरान प्रत्येक जिले में विशिष्ट वाटिकाएं जैसे स्मृति वाटिका, पंचवटी, नवग्रह वाटिका और नक्षत्र वाटिका बनाई जाएंगी। इसी के साथ नदियों को पुनर्जीवित, प्रदूषण मुक्त, अविरल व निर्मल बनाने के लिए गंगा व सहायक नदियों के 10 किलोमीटर क्षेत्र में तीन हजार से अधिक स्थलों पर 2.20 करोड़ से अधिक पौधे लगाए जाएंगे।

सुबह छह बजे से चलेगी पौधारोपण की लाइव घड़ी : पौधारोपण की घड़ी रविवार सुबह छह बजे से लाइव चलेगी। जैसे-जैसे पौधारोपण होगा इस घड़ी में संख्या बढ़ती जाएगी। पौधारोपण की इस लाइव घड़ी को pmsupfd.in/plantingprogress.html लिंक के जरिए देखा जा सकता है।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस