UP News: लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में बारिश लोगों के लिए आफत का कारण बन गई। कानपुर, आगरा, अलीगढ़ मंडल और बुंदेलखंड के जिलों में बुधवार देर शाम से शुरू हुई बारिश गुरुवार को भी रुक-रुककर होती रही। लगातार बारिश होने से कच्चे घर और दीवार ढहने के साथ बिजली गिरने की घटनाओं में 10 बच्चों समेत 21 लोगों की मौत हो गई, कई लोग घायल हुए हैं।

इटावा के सिविल लाइन क्षेत्र के चंद्रपुरा गांव में कच्ची दीवार गिरने से दादी के साथ सो रहे चार सगे भाई-बहन 10 वर्षीय सिंकू, आठ वर्षीय अभि, सात वर्षीय सोनू और पांच वर्षीय आरती की मौत हो गई। हादसे में बच्चों की दादी शारदा देवी और चार वर्षीय ऋषभ घायल हो गए। शहर के मोहल्ला घटिया अजमत अली में मकान की दीवार गिरने से आरिफ की दो वर्षीय पुत्री महक और आठ वर्ष के पुत्र आदिल की मौत हो गई, जबकि स्वजन इमरान खान की आठ माह की पुत्री सुहाना ने भी दम तोड़ दिया।

आरिफ की पत्नी चंदा व स्वजन कादरी घायल हो गईं। महेवा के ग्राम पंचायत अंदावा के मजरा बगलन में कच्ची दीवार गिरने से 50 वर्षीय जबर सिंह की मौत हो गई। इकदिल के ग्राम कृपालपुर में कच्ची दीवार गिरने से 65 वर्षीय रामसनेही और उनकी पत्नी 63 वर्षीय रेशमा देवी की मौत हो गई।

आगरा शहर में आयकर भवन परिसर में पेड़ गिरने से एक वाहन क्षतिग्रस्त  हो गया। फिरोजाबाद जनपद में अधिक नुकसान हुआ है। शिकोहाबाद तहसील के आवगंगा में दो घर गिरने से एक मासूम की मौत हो गई, जबकि आधा दर्जन लोग घायल है। वहीं, एटा के गांव नगला गवे में झोपड़ी गिरने से एक की मौत हो गई। वर्षा के कारण बाजरे की फसल को भारी नुकसान हुआ है।

मैनपुरी जनपद के कुरावली क्षेत्र के गांव बलीपुर में बुधवार शाम भैंस का दूध निकाल रही एक महिला अचानक दीवार गिरने से दब गई, जिसमें उसकी जान चली गई। मथुरा बुधवार रात से शुरू हुई वर्षा गुरुवार सुबह भी होती रही। इससे कई इलाकों में पानी भर गया। कासगंज में वर्षा ने वर्षा ने 47 साल का रिकार्ड तोड़ दिया। लगातार 19 घंटे की वर्षा से रेल ट्रैक पर पानी भर जाने से रेल यातायात प्रभावित हुआ। कई ट्रेनें देरी से संचालित हुईं। यहां दो लोगों की मौत की खबर है।

बांदा के बबेरू स्थित मर्का के ग्राम काजीटोला मजरा कल्ला का डेरा में छप्पर गिरने से बुजुर्ग किसान जगमोहन निषाद की मौत हो गई, वहीं उनकी पत्नी सुखदेईया घायल हो गईं। जिले के नरैनी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम बड़ैछा में कच्चा मकान ढहने से पिता मनोज के साथ सो रहे चार वर्षीय सूरज की मौत हो गई, जबकि पिता घायल हो गए। वहीं, कमासिन क्षेत्र में बिजली गिरने से अछरील गांव के किसान विजय व सिकरी गांव की रजवंती की मौत हो गई।

कानपुर देहात जिले के सट्टी में घर गिरने से 11 वर्षीय सज्जन की मौत हो गई, जबकि उसके माता-पिता समेत छह लोग घायल हो गए। हमीरपुर जिले के मुस्करा के छह थोक मोहाल में कच्चे घर की दीवार ढहने से जयकुमारी की मौत हो गई। वहीं राठ में कच्चा घर ढहने से मलबे में दबकर उम्मनियां गांव निवासी रज्जन घायल हो गए। महोबा के कुलपहाड़ के टपरन ढेरा में कच्चा घर ढहने से सावित्री देवी घायल हो गईं।

कानपुर नगर के बिधनू थाना क्षेत्र के कल्याणपुर गांव में गुरुवार शाम बारिश के दौरान खेत में घास काट रहे रामबाबू वर्मा और उनका नौ वर्षीय पुत्र कपिल बिजली गिरने से गंभीर रूप से झुलस गए। गंभीर रूप से झुलसे पिता-पुत्र को कांशीराम अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डाक्टर ने कपिल को मृत घोषित कर दिया। वहीं रामबाबू की हालत गंभीर बनी हुई है। फर्रुखाबाद के कमालगंज क्षेत्र के भोजपुर के मजरा संतोषपुर में बिजली गिरने से राजवीर की पत्नी गुड्डी देवी झुलस गईं।

रेलवे ट्रैक के पास गिरी बिजली, यातायात प्रभावित

इटावा के भरथना रेलवे स्टेशन के पास बुधवार देर रात तेज धमाके के साथ ट्रैक के पास बिजली गिरने से 10 मिनट के लिए यातायात प्रभावित हुआ। कानपुर से दिल्ली की ओर जाने वाली वैशाली एक्सप्रेस, फरक्का एक्सप्रेस और इलाहाबाद-जयपुर एक्सप्रेस को अप लूप लाइन से होकर गुजारा गया। मैनपुरी, एटा व कासगंज में भी रेल संचालन प्रभावित हुआ।

Edited By: Umesh Tiwari