लखनऊ(जेएनएन)। क्रिकेट एसोसिएशन लखनऊ की तरफ से आयोजित बी डिवीजन क्रिकेट लीग में शहर की 16 टीमें खिताब के लिए जोरआजमाइश करेंगी। इन टीमों को दो पूल में बांटा गया है। बी डिवीजन लीग के प्रभारी नईम चिश्ती ने बताया कि प्रत्येक टीमें सात मैच खेलेंगी। 

लीग में शामिल होने वाली टीमें

पूल ए- यूनिटी क्रिकेट अकादमी, इंडियन इलेवन, कूह स्पोर्ट्स अकादमी, एसडीएस अकादमी, स्पोर्ट्स कॉलेज, एस जिमखाना, मेगा ट्रेंड्स क्लब और आरईपीएल क्लब।

पूल बी- यूपी पुलिस, अवध स्काई स्पोर्ट्स, ध्रुव क्रिकेट अकादमी, आस्का, क्रिकेट प्रोमोशन ग्रुप, एनडीबीजी क्लब और यार्कर क्लब।

असम, ब्रायन, ड्रैगन, यूनाइटेड, एएमसी व मिलानी क्लब जीते

लखनऊ: हेमवती नंदन बहुगुणा स्मारक फुटबॉल टूर्नामेंट में शनिवार को छह मुकाबले खेले गए, जिसमें असम रेजीमेंट, ब्रायन इलेवन, ड्रैगन फुटबॉल क्लब, स्टेट यूनाइटेड, एएमसी और मिलानी एफसी की टीमों ने शानदार जीत दर्ज करते हुए पूरे अंक हासिल किए। 

ला मार्टिनियर ब्वायज कॉलेज के मैदान में खेली जा रही इस प्रतियोगिता में दिन के पहले मैच में असम रेजीमेंट की टीम ने एमिटी विश्वविद्यालय को 4-1 के अंतर से शिकस्त दी। वहीं दिन के दूसरे मुकाबले में ब्रायन इलेवन ने न्यू ब्वायज को 5-3 से हराया। तीसरे मैच में प्राइड एफसी का सामना ड्रैगन फुटबॉल क्लब से हुआ जिसमें ड्रैगन एफसी ने शानदार अंदाज में 3-0 के अंतर से जीत दर्ज की। मानसरोवर और स्टेट यूनाइटेड के बीच खेला गया दिन के रोमांचक चौथा मैच यूनाइटेड की टीम ने 4-3 से अपने नाम किया। पांचवें मैच में एएमसी की टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए जेनिथ एफसी एकतरफा को 4-0 से पटखनी दी। इस मैच में जेनिथ की रक्षापंक्ति बेहद कमजोर रही। वहीं दिन के अंतिम मुकाबले में मिलानी क्लब ने स्टार एफसी को हराया। 

किसान की बेटी ने जीते दो गोल्ड 

सरोजनीनगर: इटावा के सेंट विवेकानंद सीनियर सेकेंडरी स्कूल में प्रदेश स्तरीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता 12 से 14 अक्टूबर तक आयोजित की गई। सीबीएसई की ओर से आयोजित ईस्ट जोन क्लस्टर चतुर्थ प्रदेश स्तरीय अंडर 14 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में सरोजनीनगर स्थित क्रिएटिव कान्वेंट कॉलेज की छात्र श्रेया राज ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दो स्वर्ण पदक हासिल किए। स्नेहा ने 200 मीटर और 800 मीटर दौड़ स्पर्धा में यह सफलता पाई। श्रेया मूल रूप से अंबेडकरनगर की रहने वाली हैं। श्रेया के पिता सुरेश चंद्र एक साधारण किसान हैं। हालांकि श्रेया राज सरोजनीनगर में अपने एक रिश्तेदार के घर पर रहकर पढ़ाई कर रही हैं। गोल्ड मेडल जीतकर वापस लौटी श्रेया को कॉलेज प्रबंधक ने सम्मानित किया।

Posted By: Anurag Gupta