फसल मौसम सतर्कता समूह को खरीफ उत्पादन बढ़ने की उम्मीद

जाब्यू, लखनऊ : समय से पहले झमाझम बरसात के चलते धान बुआई लक्ष्य से आगे निकल रही है। बुधवार को कृषि अनुसंधान परिषद सभागार में आयोजित फसल मौसम सतर्कता समूह की बैठक में खरीफ फसलों के आच्छादन आंकड़ों पर चर्चा की गई। महानिदेशक राजेंद्र कुमार ने बताया कि धान, मक्का, ज्वार व बाजरा फसलों की बुआई क्षेत्रफल अनुमान पूरा होने को है। फसल आच्छादन के लक्ष्य 93.33 लाख हेक्टयर के सापेक्ष 84.98 लाख हेक्टयर की पूर्ति हो चुकी है। बासमती धान की बुआई लक्ष्य से आगे निकल चुकी है। अब तक प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 5.91 लाख हेक्टयर के सापेक्ष 6.36 लाख हेक्टयर भूमि में बासमती सुगंधित धान की रोपाई हो चुकी है। इसी क्रम में अरहर, ज्वार, बाजरा व मक्का आदि की बुआई भी लक्ष्य के आसपास है। बुआई क्षेत्र बढ़ने की जानकारी को देखते हुए खरीफ का उत्पादन बढ़ने के आसार है।

बैठक में एकत्रित मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि आने वाले सप्ताह में प्रदेश के समस्त अंचलों में हल्की से मध्यम बरसात के आसार है लेकिन अलीगढ़, मथुरा, मेरठ, बदायूं, गाजियाबाद और हापुड़ जिलों में भारी वर्षा के संकेत मिल रहे है। सब्जियों की फसलों को कीड़ों से बचाने के लिए नीम का तेल इस्तेमाल करने की सिफारिश करते हुए कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को देर से धान की रोपाई करने के नुकसानों के बारे में बताया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस